देश व्‍यापार

बैंक ऑफ बड़ौदा ने भी एमसीएलआर दर बढ़ाई, नई दरें सोमवार से होंगी लागू

नई दिल्ली। इंडियन ओवरसीज बैंक (Indian Overseas Bank) के बाद के बाद सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) (Public Sector Bank of Baroda (BoB)0 ने भी अपने ग्राहकों को झटका दिया है। बीओबी ने आरबीआई के रेपो रेट में 0.35 फीसदी वृद्धि (RBI’s repo rate increased by 0.35 percent) के बाद सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (एमसीएलआर) में 0.25 से 0.30 फीसदी तक इजाफा किया है। बैंक की नई दरें सोमवार से लागू होंगी।


बीओबी ने रेग्युलेटरी फाइलिंग में बताया कि एक दिन की एमसीएलआर 0.25 फीसदी बढ़ाकर 7.50 फीसदी किया गया है। एक महीने के लिए एमसीएलआर को 0.25 फीसदी बढ़ाकर 7.95 फीसदी कर दिया गया है, जबकि तीन महीने के लिए एमसीएलआर को 0.30 फीसदी बढ़ाकर 8.05 फीसदी किया गया है। छह महीने के लिए एमसीएलआर बढ़कर 8.15 फीसदी हो जाएगा, जबकि एक साल की अवधि वाले एमसीएलआर को 8.05 फीसदी से बढ़ाकर 8.30 फीसदी कर दिया गया है।

उल्लेखनीय है कि आरबीआई ने इसी हफ्ते रेपो रेट 0.35 फीसदी बढ़ाया है, जो 6.25 फीसदी पर पहुंच गया है। इसके साथ ही एचडीएफसी, इंडियन ओवरसीज बैंक के बाद बैंक औफ बड़ौदा ने भी एमसीएलआर में बढ़ोतरी की है। एमसीएलआर बढ़ने से टर्म लोन पर ईएमआई की दर बढ़ना तय है। दरअसल, अधिकांश बैंकों का कंज्यूमर लोन एक साल के एमसीएलआर पर आधारित होता है। ऐसे में एमसीएलआर दर बढ़ने से पर्सनल लोन, ऑटो और होम लोन महंगे हो सकते हैं। (एजेंसी, हि.स.)

Share:

Next Post

शिक्षा मंत्री परमार ने किया "मिशन अंकुर"का शुभारंभ, स्कूलों का रिपोर्ट कार्ड किया जारी

Sun Dec 11 , 2022
– प्रारंभिक शिक्षा में खंडवा, छतरपुर और छिंदवाड़ा शीर्ष पर भोपाल। स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) इन्दर सिंह परमार (Minister Inder Singh Parmar) ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 (National Education Policy 2020) के परिपालन में “निपुण भारत” के लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए मध्यप्रदेश में “मिशन अंकुर” अभियान (“Mission Ankur” campaign) नींव […]