जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

मुंह में आ रहा अजीब तरह का स्‍वाद तो हो जाएं सावधान, मधुमेह का हो सकता है लक्षण


आज के समय में डायबिटीज (diabetes) खतरनाक समस्‍या बन गई है और ज्‍यादतर लोग इस बीमारी से ग्रसित है । अब न सिर्फ बुजुर्ग बल्कि हर उम्र के लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। आमतौर पर लंबे समय तक इसके सामान्य लक्षण (common symptoms) दिखाई नहीं देते हैं, लेकिन मुंह में एक अजीब तरह का स्वाद विकसित होना भी डायबिटीज के प्रारंभिक लक्षणों में से एक हैं।

डायबिटीज एक ऐसी स्थिति है जिसमें ब्लड शुगर लेवल (blood sugar level) बढ़ जाता है। इससे कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इनमें कई लोग ऐसे भी हैं जो इस बीमारी से अंजान होकर अपना जीवन जीते हैं। यदि आपको डायबिटीज के लक्षण महसूस होते हैं तो बिना देर किए आप डॉक्टर की सलाह लें।

सभी डायग्नोज किए गए डायबिटीज के मामलों में से लगभग 90 प्रतिशत मामले टाइप 2 डायबिटीज के कारण होते हैं। टाइप 2 डायबिटीज में शरीर पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन (insulin) का उत्पादन नहीं कर पाता है या शरीर की कोशिकाएं इंसुलिन पर प्रतिक्रिया नहीं कर पाती हैं। इंसुलिन ब्लड में शुगर के लेवल को नियंत्रण करके इसे ऊर्जा में बदलने का काम करती है।


अक्सर लोग डायबिटीज के लक्षण को कम आंकने की गलती कर इन्हें अनदेखा कर देते हैं। पर एक शोध के अनुसार, मुंह में अजीब तरह का स्वाद विकसित होना भी डायबिटीज का गंभीर लक्षण हो सकता है। कुछ मरीजों को पहली बार पता चला है कि उनके मुंह में एक अजीब स्वाद विकसित होने पर ये किसी बीमारी का संकेत हो सकता है।

नर्वस सिस्टम खराब होने लगता है
मेडिकल वेबसाइट हेल्थलाइन के अनुसार, स्वाद में गड़बड़ी अलग-अलग तरह की हो सकती है, लेकिन इसे अक्सर टेस्ट मेटालिक के रूप में जाना जाता है। टेस्ट मेटालिक एक टेस्ट डिसऑर्डर (disorder) है जिसमें व्यक्ति के मुंह में कुछ ना होने पर भी धातु का स्वाद महसूस होता है। ब्लड में शुगर का लेवल हाई होने पर धीरे-धीरे सेंट्रल नर्वस सिस्टम खराब होने लगता है जो बाद में मुंह के स्वाद और गंध को प्रभावित करता है।

पैरागेसिया एक टेस्ट डिसऑर्डर
एक्सपर्ट के अनुसार, पैरागेसिया (paragesia) एक टेस्ट डिसऑर्डर है। ये वो स्थिति है जब स्वाद को प्रभावित करने वाली नसें क्षतिग्रस्त हो जाती हैं। इससे मुंह में एक धातु का स्वाद महसूस होने लगता है। हाई ब्लड शुगर या अनियंत्रित डायबिटीज से न केवल नर्वस सिस्टम (nervous system) को क्षति पहुंचती है बल्कि इससे किडनी को भी नुकसान पहुंचता है। इसके अलावा, डायबिटीज से पिड़ित लोगों को टेस्ट डिसऑर्डर यानी पैरागेसिया भी हो सकता है

ब्रश करें
लेकिन, महज मुंह में धातु का स्वाद विकसित होने से ये मतलब नहीं है कि आपको डायबिटीज है। एनएचएस के अनुसार, ये अपच, सर्दी या साइनस संक्रमण (sinus infection) के कारण भी हो सकता है। इसके अलावा, मसूड़े की बीमारी भी एक अप्रिय स्वाद का कारण बन सकती है। इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप नियमित रूप से अपने दांतों की सफाई करें और डेंटल फ्लॉस का उपयोग करें। इसके बावजूद भी अगर मुंह में धातु का स्वाद लगातार बना हुआ है तो डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

बाथरूम
यदि आप सामान्य से अधिक बार बाथरूम का उपयोग करते हैं या आपको बार-बार प्यास लगती है या घाव भरने में देरी होती है तो ये भी डायबिटीज के अन्य लक्षण हो सकते हैं। ऐसे में अगर आप समय रहते डायबिटीज का इलाज नहीं कराते हैं तो इससे हृदय रोग और हार्ट स्ट्रोक (heart stroke) का खतरा बढ़ सकता है। ऐसे में डायबिटीज के लक्षण महसूस होने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें ।

Next Post

1 June से Banks बन गई वसूली पटेल

Tue Jun 15 , 2021
एटीएम से अपना ही पैसा निकालने के लिए देना पड़ रहा सर्विस चार्ज-चेक बुक का एक पन्ना ग्राहकों को पड़ रहा 4 से 5 रुपए में उज्जैन। एक समय था जब सरकारी और गैर सरकारी बैंकों में खाता खुलवाने के लिए ग्राहकों को तरह-तरह की सुविधाएँ और छूट दी जाती थी। जब से बैंकों में […]