विदेश

सवा करोड़ की मर्सिडीज कार फूंक दी, जानिए क्या है कारण

नई दिल्ली। रूस के एक सोशल मीडिया स्टार ने अपनी सवा करोड़ की लग्जरी मर्सिडीज कार जला डाली। जाने-माने यूट्यूबर मिखाइल लिटविन ( Mikhail Litvin ) ने अपने इस कारनामे का वीडियो शूट भी कराया। द गाजियन ( guardian.ng ) की रिपोर्ट के मुताबिक मिखाइल ने अपनी नई मर्सिडीज-एएमजी जी63 कार सिर्फ 15 हजार किमी ही चलाई थी और इसमें बार-बार आ रही खराबी के चलते वह परेशान हो गए थे।

रिपोर्ट्स के मुताबिक रूसी व्लॉगर मिखाइल अपनी लग्जरी कार को पिछले 10 माह में कई बार ठीक होने के दे चुके थे लेकिन फिर भी उसमें खराबी आ रही थी। आखिरकार मिखाइल इतने तिलमिला गए कि उन्होंने अपनी कार को फूंक डाला। हालांकि बहुत से सोशल मीडिया यूजर्स का मानना है कि यह केवल पब्लिसिटी स्टंट है। यूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फोलोवर्स बढ़ाने के लिए ऐसा किया गया है। आपको बता दें कि मिखाइल लिटविन के यूट्यूब पर करीब 50 लाख सब्सक्राइबर हैं।

वीडियो को शेयर करते हुए यूट्यूबर ने लिखा, ‘मैंने बहुत सोचा कि मुझे इस शार्क के साथ क्या करना है… मेरे लिए ‘आग’ अच्छा आइडिया था। मैं खुश नहीं हूं!’ वीडियो में देखा जा सकता है कि यूट्यूबर अपनी नई लग्जरी कार एक खुले मैदान में लाकर खड़ी करता है। उसके बाद डिक्की से तेल निकालकर कार पर डाल देता है। थोड़ा तेल वह घास पर भी डाल देता है। इसके बाद कुछ दूर जाकर वह सॉसेजिस पकाकर खाता है और लाइटर घास में डाल देता है। आग पल भर में घास से होते हुए कार में अपने लपेटे में ले लेती है।

24 अक्टूबर को शेयर किए गए इस वीडियो को यूट्यूब पर 1.15 करोड़ से ज्यादा बार देखा जा चुका है।  1 मिलियन से ज्यादा लाइक और 47000 से ज्यादा डिसलाइक आ चुके हैं। 1 लाख से ज्यादा लोग कमेंट कर चुके हैं। सोशल मीडिया पर लोग इस वीडियो पर तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं। एक यूजर ने मजाकिया अंदाज में लिखा, ‘आपका वीडियो और मजेदार होता अगर आप हम छात्रों को एक एक कार दान में दे देते।’ एक अन्य यूजर ने लिखा जलाने के बजाय मुझे ही दे देते। एक यूजर ने लिखा, ‘डीलरशिप से नाराजगी अपनी जगह पर ठीक है लेकिन यह सिर्फ ध्यान खींचने के लिए है।’

Share:

Next Post

सीमा विवाद पर अमेरिका के भारत के साथ खड़े होने से बौखलाया चीन

Wed Oct 28 , 2020
नई दिल्ली । पूर्वी लद्दाख में चल रहे सैन्य गतिरोध के बीच अमेरिका के भारत को मिले समर्थन से चीन बौखला गया है और उसने इस पर कड़ा एतराज जताते हुए इसे द्विपक्षीय मामला बताया है। भारत में चीनी दूतावास की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि दो देशों के संबंध […]