भोपाल

लोगों को समय पर इलाज मिल जाता तो बच्चे अनाथ नहीं होते

  • पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कर्जमाफी करो… तारीख नहीं बढ़ाओ

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष (Congress President) एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने कहा है कि मुख्यमंत्री (Chief Minister) की वह घोषणा जिसमें उन्होंने अनाथ हुए बच्चों को सहारा देने की बात की है, वह स्वागत योग्य है, लेकिन यह सवाल भी उठ रहा है कि आखिर कई परिवार (Family) बेसहारा क्यों हुए , बड़ी संख्या में बच्चे अनाथ क्यों हुए? प्रदेश में हजारों लोगों को यदि समय पर इलाज मिल जाता, बेड मिल जाता, ऑक्सीजन (Oxygen) मिल जाती,  जीवन रक्षक दवाइयाँ (Medicines) व इंजेक्शन (Injection) मिल जाते, आवश्यक साधन व संसाधन मिल जाते तो कई परिवार आज बेसहारा होने से बचाये जा सकते थे, कई बच्चे अनाथ होने से बचाये जा सकते थे? आखिर इसका दोषी कौन है? यह तो नरसंहार है , इसके दोषियों पर तो हत्या का मामला दर्ज होना चाहिए। कमलनाथ (Kamalnth) ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) से प्रदेाश् की जनता के लिए अच्छी घोषणाओं की उम्मीद थी। कोरोना (Corona) रोकथाम को लेकर किसी अच्छी कार्ययोजना के सामने आने की उम्मीद थी। लेकिन वे पुरानी बातें , पुरानी घोषणाएं व पुराने निर्णय ही लेकर आए। कमलनाथ (Kamalnath) ने पूछा कि मुख्यमंत्री कहते हैं कि प्रदेश को 5 करोड़ 29 लाख डोज़ की आवश्यकता है लेकिन यह कब आएंगे। कब मिलेंगे ,कब लगेंगे इस पर उन्होंने आज कोई बात नहीं कही।

Next Post

सितंबर-अक्टूबर में बजेगा उपचुनाव का बिगुल!

Sat May 15 , 2021
खंडवा लोकसभा सीट सहित विधानसभा की तीनों सीटें रिक्त घोषित भोपाल। मप्र (MP) में खंडवा लोकसभा (Khandwa Lok Sabha) के साथ ही तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव संभवत: सितंबर-अक्टूबर में हो सकते हैं। उधर प्रदेश की तीन विधानसभा सीटों (Assembly seats) को विधानसभा सचिवालय ने रिक्त घोषित कर दिया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के […]