बड़ी खबर भोपाल मध्‍यप्रदेश

कोरोनाः मुख्यमंत्री ने आमजन को किया संबोधित, सहयोग और सावधानी बरतने की अपील

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार देर शाम टीवी चैनल और सोशल मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से प्रदेश की जनता को संबोधित किया। उन्होंने लोगों से कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सहयोग और सावधानी बरतने की अपील की। उन्होंने कहा कि जरा सी भी असावधानी से हम फिर इस महामारी से घिर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। स्थितियां बिगड़ने पर हमें लॉकडाउन जैसे कड़े फैसले लेने पड़ते हैं। इससे बचने के लिए मास्क का प्रयोग कीजिये, भीड़भाड़ में मत निकलिये और सामाजिक दूरी की पालन करें। उन्होंने आमजन से अपील करते हुए कहा कि आइए, हम सब मिलकर संकल्प करें, फिर कोरोना को मारेंगे। कोरोना हारेगा, मध्यप्रदेश जीतेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना गाइडलाइन के अनुसार हमने बड़े मेलों का आयोजन रोक दिया है। अलग-अलग जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हो रही है और जिलावार निर्णय लिये जा रहे हैं। इंदौर सहित कुछ जिलों में शादी आदि समारोहों को हॉल की क्षमता के अनुसार लोगों की संख्या सीमित की है। अभी हम नाइट कर्फ्यू नहीं लगा रहे, लेकिन अगर स्थिति बेकाबू हुई को इस दिशा में भी जाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि खतरे की घंटी बज रही है। हम फिलहाल न लॉकडाउन लगा रहे हैं, न नाइट कर्फ्यू, लेकिन अगर स्थिति अधिक बिगड़ती है तो ऐसे निर्णयों पर भी विचार करना पड़ सकता है। लॉकडाउन जैसी स्थितियां किसी भी अर्थव्यवस्था के लिए बेहद घातक होती है, इसीलिए हमें सावधानी बरतकर ऐसी स्थिति से बचना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने जनता के नाम संबोधन में कहा कि आपके सहयोग के बिना कोरोना संक्रमण को रोकना संभव नहीं है। उन्होने अपील की कि उनके जिले में जारी कोरोना गाइडलाइन का पालन करें और कोरोना संकट से निपटने में सरकार की सहायता करें। हम पहले भी एक बार कोरोना को हरा चुके हैं, और हमें मिलकर संकल्प करना होगा कि फिर से घिर रहे इस संकट से हमें मिलकर निपटना होगा।

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र से सटे जिले बुरहानपुर, खरगोन, बैतूल, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट सबको सावधान रहने की जरूरत है। वहां से आने वालों की स्क्रिनिंग की जाएगी। उन्होंने अपील की कि फिलहाल महाराष्ट्र जाने से बचें। उन्होंने मजदूरों से भी कहा कि मनरेगा के अंतर्गत उन्हें प्रदेश में ही रोजगार मुहैया कराया जाएगा, वे भी फिलहाल काम के लिए महाराष्ट्र जाने से बचें। (एजेंसी, हि.स.)

Next Post

उप्रः पिछले दस वर्षों में तम्बाकू कम्पनियों के 16 मामलों में 3196.63 लाख की टैक्स चोरी

Fri Feb 26 , 2021
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पिछले दस वर्षों में तम्बाकू कम्पनियों के 16 मामलों में कुल 3196.63 लाख रुपये के टैक्स चोरी के मामलों का पता चलता है, जिसमें सिगरेट, पान मसाला व अन्य तम्बाकू उत्पादों के अवैध व्यापार एवं टैक्स चोरी के मामले शामिल हैं। यह खुलासा एक शोध ​में हुआ है। भारत में तम्बाकू […]