जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

ग्रहों के परिवर्तन से कई योगों का निर्माण,14 जून को कन्‍या राशि वालों के लिए खास, खुलेगी किस्मत

नई दिल्‍ली (New Delhi)। ग्रहों के परिवर्तन(Planetary changes) से कई योगों का निर्माण(Creation of formulations) होता है। इस बार 14 जून को कन्या राशि में चंद्रमा(Moon in Virgo) आने वाले हैं ऐसे में उन पर गुरु की शुभ दृष्टि(auspicious sight of guru) पड़ रही है, जिससे गजकेसरी योग का निर्माण(Formation of Gajakesari Yoga) हो रहा है। यह योग बहुत ही खास माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि चंद्रमा और गुरु की विभिन्न स्थितियों के कारण गजकेसरी योग बनता है। 14 तारीख को गजकेसरी राजयोग का निर्माण होने जा रहा है। आपको बता दें कि देवताओं के गुरु बृहस्पति अभी शुक्रदेव की राशि वृषभ में मौजूद हैं। ऐसे में गुरु की शुभ दृष्टि पड़ने से चंद्रमा कन्या राशि में गजकेसरी योग बनाएगा।

क्यों खास है गजकेसरी योग

गजकेसरी योग बहुत खास माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इस योग से व्यक्ति को धन वैभव तो मिलता ही मिलता है साथ ही समाज में भी उसका मान सम्मान बढ़ता है, उसके ज्ञान में वृद्धि होती है और वह अच्छा जीवन गुजारता है।

इस गजकेसरी योग से किस राशि को लाभ होगा?

मिथुन राशि गजकेसरी योग से मिथुन राशि को लाभ होगा और इनकी किस्मत बदलेगी। इनके काम जो बन नहीं रहे थे, अब उन कामों में भाग्य का साथ मिलेगा। अगर सरकारी नौकरी के लिए एग्जाम देना चाहते हैं तो आप सफल होंगे। समाज में ऊंचा पद भी मिल सकता है।


धनु राशि वालों के लिए भी गजकेसरी योग उन्नति और तरक्की देने वाला रहेगा। आपकी लाइफ में सकारात्मक बदलाव आने शुरू होंगे। आप आगे बढ़ेंगे और प्रमोशन मिलने के भी संकेत हैं।

कन्या राशि में चंद्रमा की स्थिति के कारण गजकेसरी योग बन रहा है, ऐसे में इस राशि वालों का तनाव कम होगा और अब ये हंसी खुशी रहेंगे, धन लाभ भी मिलने के संकेत हैं।

कर्क राशि वालों के लिए यह योग कई खुशियां लाया है, चाहे वो संतान की तरफ से हो या फिर जीवनसाथी की तरफ से।

Share:

Next Post

Russia-Ukraine war: भारत समेत 90 देश हुए साथ, क्या मोदी खत्म करा पाएंगे रूस-यूक्रेन युद्ध?

Tue Jun 11 , 2024
नई दिल्ली: रूस-यूक्रेन (Russia-Ukraine) के बीच करीब ढाई साल से जंग (war) जारी है. रूस और यूक्रेन संघर्ष में हजारों लोगों की मौत हो चुकी हैं. लाखों घर मलबों में तब्दील हो चुके हैं. करोड़ों जिंदगियां तबाह हो चुकी हैं. फिर भी युद्ध की आग बुझी नहीं है. भारत (India) समेत पूरी दुनिया (World) किसी […]