भोपाल

झमाझम बारिश होने के कारण जन-जीवन अस्त-व्यस्त

  • अलसुबह भारी बारिश, सड़कों पर भरा पानी
  • आज दिन भर भारी बारिश की संभावना, नहीं खुलेगा मौसम

भोपाल। प्रदेश में गुरुवार को अलसुबह से झमाझम बारिश होने के कारण जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है, नीचले इलाकों और सड़कों पर पानी भर जाने के कारण लोगों को आवाजाही में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, ऐसे में सुबह से स्कूल जाने वाले बच्चे व नौकरीपेशा लोगों को घर से बाहर निकलने में भी परेशानी हुई। बाजार भी अन्य दिनों की अपेक्षा अभी तक नहीं खुला है। हर कहीं लोग बारिश के प्रभाव से बचने की तैयारी में जुटे हैं। मौसम विभाग की माने तो प्रदेश में आज लगभग सभी स्थानों पर भारी बारिश रहेगी, मौसम दिनभर ऐसा ही रहेगा, कहीं रूक-रूककर बारिश होगी, तो कहीं लगातार बारिश होने की संभावना है, ऐसे में अगर आप भी घर से बाहर कहीं जा रहे हैं, तो जरूरी नहीं होने पर रूक जाएं, क्योंकि वर्तमान में आकाशीय बिजली का कहर भी लोगों पर बरस रहा है। हालही प्रदेश में एक दर्जन से अधिक लोगों की मौत आकाशीय बिजली गिरने के कारण हुई है।

आपको बतादें कि नगर निगम द्वारा आपतकालीन स्थिति में तुरंत सहायता पहुंचाने के लिए कंट्रोल रूम स्थापित करने के साथ ही टेलीफोन नंबर भी जारी किए हैं, ताकि लोगों को किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़े, जिसके तहत मुख्य आपातकाल नियंत्रण कक्ष का फायर बिग्रेड मुख्यालय फतेहगढ़ को बनाया है, यहां सम्पर्क करने के लिए आप 0755-2542222, 2540220 और 2701401 नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। वहीं माता मंदिर में भी कंट्रोल रूम प्रभारी चंचलेश गिरहरे से 9425149028 मोबाइल नंबर पर भी कॉन्टेक्ट कर सकते हैं। आपको इन नंबरों पर कॉल करने पर आपातकालीन स्थिति में तुरंत मदद मिलेगी। इसके अलावा आप जोन-1 गांधी नगर, कैलाश नगर, भौंरी, बैरागढ़, बैरागढ़ कला, कोलूखेड़ी, बुधवारा चौराहा में आने वाले परेशानी के लिए जोनल अधिकारी परितोष रंजन परसाई से 9424499904 सम्पर्क कर सकते हैं। इसी प्रकार अन्य क्षेत्रों में भी बारिश के दौरान समस्या आने पर आप इन नंबरों पर सम्पर्क कर सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

Share:

Next Post

सूरमा के बतोले

Thu Jul 7 , 2022
चुनावी मोड से बाहर आए पत्रकार काँटों से गुजऱ जाता हूँ दामन को बचा कर फूलों की सियासत से मैं बेगाना नहीं हूँ आखिरकार कोई एक सवा महीने से चुनावी मोड में दिन रात एक कर रहे पत्रकारों को आज से सुकून मिल गया। हालांकि 17 जुलाई को चुनाव नतीजों के लिए फील्ड में काम […]