देश

भारत-फ्रांस के बीच हुई चौथी वार्षिक रक्षा वार्ता, क्षेत्रीय और रक्षा औद्योगिक सहयोग के मुद्दों पर हुई चर्चा

नई दिल्ली । चौथे भारत-फ्रांस ()India-France वार्षिक रक्षा संवाद के दौरान सोमवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और फ्रांस के रक्षा मंत्री सेबेस्टियन लेकोर्नू के साथ गर्मजोशी के माहौल (warm atmosphere) में उपयोगी चर्चा हुई। वार्ता के दौरान द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और रक्षा औद्योगिक सहयोग के मुद्दों की एक विस्तृत श्रृंखला पर चर्चा की गई। फ्रांस के सशस्त्र बलों के मंत्री सेबेस्टियन लेकोर्नू ने आज सुबह राष्ट्रीय युद्ध स्मारक (National War Memorial) पर पुष्पांजलि अर्पित कर शहीद हुए नायकों को श्रद्धांजलि दी। राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने लेकोर्नू की अगवानी की और उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया।

फ्रांसीसी सशस्त्र बलों के मंत्री सेबेस्टियन लेकोर्नू (minister sebastien lecornu) भारत-फ्रांस वार्षिक रक्षा वार्ता और रणनीतिक संबंधों को मजबूत करने के लिए भारत (India) की यात्रा पर हैं। वह रविवार को भारत में डिजाइन और निर्मित भारतीय नौसेना के नवीनतम विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत पर भी सवार हुए। उन्होंने विक्रांत पर दक्षिणी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ वाइस एडमिरल एमए हम्पीहोली के साथ बातचीत में दोहराया कि फ्रांस और भारत अपनी समुद्री संप्रभुता की रक्षा करने और भारत-प्रशांत क्षेत्र (Indo-Pacific region) में स्वतंत्रता की गारंटी देने के लिए एकजुट हैं।


फ्रांसीसी रक्षा मंत्री अपने प्रतिनिधिमंडल के साथ आज सुबह वार्षिक रक्षा वार्ता के लिए दिल्ली पहुंचे तो रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उनकी अगवानी की। लेकोर्नू को साउथ ब्लॉक में गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया। इससे पहले रक्षा मंत्री ने फ्रांस के सशस्त्र बल मंत्री सेबेस्टियन लेकोर्नू की अगवानी की और उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया। लेकोर्नू ने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित कर शहीद हुए नायकों को श्रद्धांजलि (Tribute) दी। इसके बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की फ्रांसीसी प्रतिनिधिमंडल के साथ चौथी वार्षिक रक्षा वार्ता शुरू हुई।

वार्ता के बाद राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया कि आज नई दिल्ली में चौथे भारत-फ्रांस वार्षिक रक्षा संवाद के दौरान फ्रांस के रक्षा मंत्री सेबेस्टियन लेकोर्नू के साथ गर्मजोशी और उपयोगी चर्चा हुई। वार्ता के दौरान द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और रक्षा औद्योगिक सहयोग के मुद्दों की एक विस्तृत श्रृंखला पर चर्चा की गई। रक्षा सहयोग के सभी पहलुओं पर विस्तृत बातचीत हुई, जिसमें परिचालन रक्षा संबंध, आतंकवाद का मुकाबला, समुद्री सुरक्षा के मुद्दे भी शामिल रहे। भारत की ‘आत्मनिर्भर भारत’ नीति के अनुरूप इंडो-पैसिफिक और औद्योगिक और तकनीकी साझेदारी पर भी बात दोनों रक्षा मंत्रियों के बीच वार्ता हुई।

फ्रांस के सशस्त्र बलों के मंत्री सेबेस्टियन लेकोर्नू वार्षिक रक्षा संवाद के बाद विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ बैठक में यूरोप और भारत-प्रशांत क्षेत्र की स्थिति सहित आम चिंता के वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करेंगे। क्षेत्रीय सुरक्षा मुद्दों और आतंकवाद का मुकाबला करने में घनिष्ठ सहयोग पर चर्चा के लिए मंत्री लेकोर्नू राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से भी मिलेंगे।

Share:

Next Post

एयरफोर्स स्टेशन पर पदस्थ जवान ने गोली मारकर की आत्महत्या, मामले की जांच कर रही पुलिस

Mon Nov 28 , 2022
ग्वालियर । ग्वालियर (Gwalior) से करीब 15 किलोमीटर दूर महाराजपुरा थाना क्षेत्र के तहत एयरफोर्स स्टेशन पर पदस्थ एक जवान ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या (suicide) कर ली। मृतक जवान पंजाब का रहना वाला था और उसकी ड्यूटी एयरपोर्ट के वॉच टावर पर चल रही थी। घटना की सूचना मिलते ही एयरफोर्स टीम व […]