इंदौर न्यूज़ (Indore News) मध्‍यप्रदेश

सीजिंग के नाम पर कंपनियों ने पाले गुंडे

किस्त लेने के बहाने अवैध वसूली, सरेराह लोगों से मारपीट भी कर रहे हैं

इंदौर। शहर (Indore) और ग्रामीण इलाकों (Rural areas) में फाइनेंस कंपनियों (Finance Companies) ने सीजिंग (seizing) के नाम पर गुंडे-बदमाश (goons and scoundrels) पाल रखे हैं, जो फाइनेंस कराने वाले वाहन मालिकों (Vehicle Owners) को न सिर्फ धमकाते हैं, बल्कि अवैध वसूली भी करते हैं। देपालपुर पुलिस ने ऐसी ही एक शिकायत के बाद धमकाने वालों को गिरफ्तार किया है। ये अवैध वसूली भी कर रहे थे।



देपालपुर पुलिस ने बताया कि 17 जून को एक मामले में श्रीराम दयाल निवासी बड़ौलीहौज गांव को देपालपुर अरिहंत कॉलोनी गेट के सामने 5 से 6 वाहन सीजिंग करने वाले मिले और धमकाने लगे। श्रीराम दयाल के साथ इन लोगों ने मारपीट भी की। यही नहीं, धमकाने वालों ने निजी खर्च के लिए 5 हजार रुपए की मांग भी की और तब तक उन्हें रोके रखा, जब तक कि पैसे देने की हामी नहीं भरी। इस मामले में पुलिस ने दीपक, राहुल सोलंकी, विनोद मंडलोई, अमर खान, अंकित खत्री, सचिन मंडलोई और अभिलेश सभी निवासी देपालपुर के खिलाफ केस दर्ज किया है।

Share:

Next Post

इंदौर: बाहरी बदमाश शहर में आकर बढ़ा रहे हैं अपराधों का ग्राफ

Tue Jun 18 , 2024
छह माह में इंदौर पुलिस ने पकड़ी एक दर्जन से अधिक गैंग , लूट चोरी और वाहन चोरों की गैंग पकड़ाई जा चुकी इंदौर। शहर (Indore) में अपराधों का ग्राफ (Graph of crimes) तेजी से बढ़ रहा है। इसमें बड़ा योगदान बाहरी (Outsiders) गिरोह का है। छह माह की बात करें तो इंदौर पुलिस (Police) […]