व्‍यापार

भारतीय रेलवे ने शुरू की जबरदस्त सर्व‍िस, थके हुए यात्र‍ियों को होगा बड़ा फायदा

नई दिल्ली: यात्री सुव‍िधाओं पर लगातार काम कर रहे भारतीय रेलवे ने अब पैंसेजर की सहूल‍ियत को ध्‍यान में रखते हुए एक और सर्व‍िस शुरू की है. इस सर्व‍िस के शुरू होने के बाद अब आपको स्‍टेशन पर उतरने के बाद होटल की तलाश में भटकना नहीं पड़ेगा. जी हां, यह खबर ऐसे यात्र‍ियों के ल‍िए बेहद काम की है जो अक्‍सर एक शहर से दूसरे शहर की यात्रा करते हैं. और अपनी ब‍िजनेस मीट‍िंग के चक्‍कर में होटल आद‍ि लेकर स्‍टे करते हैं.

रेलवे की तरफ से मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (CSMT) स्टेशन पर स्लीपिंग पॉड (Sleeping Pods) की सुव‍िधा यात्र‍ियों के ल‍िए शुरू की गई है. इससे पहले 17 नवंबर 2021 को पश्चिम रेलवे (Western Railway) के मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के लिए एक पॉड होटल खोला गया था. इस तरह यह मुंबई में दूसरी स्लीपिंड पॉड सर्विस फैसेल‍िटी है. रेलवे की तरफ से बताया गया क‍ि आरामदायक और किफायती स्टे का ऑप्‍शन देने के लिए Indian Railways ने यह पहल की है. इस स्‍लीप‍िंग पॉड की कुछ तस्‍वीरें रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर शेयर भी की हैं. दअअसल, आपको बता दें स्लीपिंग पॉड्स (Sleeping Pods) यात्र‍ियों के रुकेने के लिए छोटे कमरे होते हैं. इन्‍हें कैप्सूल होटल भी कहा जाता है.

रेलवे स्‍टेशन पर मौजूद वेटिंग रूम के मुकाबले इनका क‍िराया कम होता है. लेकिन यहां पर यात्र‍ियों को उनकी जरूरत के हिसाब से सुविधाएं मिल जाती है. इनमें एयर कंडीशनर रूम में ठहरने की सुव‍िधा के साथ अन्य कई सुविधाएं जैसे मोबाइल फोन चार्जिंग, लॉकर रूम, इंटरकॉम, डीलक्स बाथरूम और टॉयलेट्स आदि की सुविधा म‍िलती है.

रेलवे की तरफ से नया स्लीपिंग पॉड होटल (Sleeping Pod Hotel) मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (CSMT) की मेन लाइन पर वेटिंग रूम के पास खोला गया है. इसका नाम Namah Sleeping Pods है. रेलवे की तरफ से बताया गया क‍ि CSMT पर मौजूद इस स्लीपिंग पॉड्स (Sleeping Pods) में फ‍िलहाल 40 स्लीपिंग पॉड्स मौजूद हैं. इनमें 30 सिंगल पॉड्स, 6 डबल पॉड्स और 4 फैमली पॉड हैं. के CSMT रेलवे स्टेशन पर बने Namah Sleeping Pods की बुकिंग आप ऑनलाइन या काउंटर पर जाकर दोनों तरह से करा सकते हैं.

Share:

Next Post

एक घंटे में होगा कोरोना के सभी वेरिएंट का टेस्ट, जानिए कैसे

Mon Jul 4 , 2022
नई दिल्ली: पूरी दुनिया में इस वक्त भी कोरोना ने रफ्तार पकड़ ली है और पश्चिमी देशों में कुछ नए वेरिएंटों (new variants) ने भी दस्तक देनी शुरू कर दी है. कोरोना के इस नए वेरिएंट का पता लगाने में कई-कई दिन लग जाते हैं. आरटीपीसीआर टेस्ट (RTPCR Test) में करीब 24 घंटे का समय […]