विदेश

इजराइल ने गाजा पर किया जोरदार हमला, 24 घंटे में 150 फिलिस्तीनियों की मौत

नई दिल्‍ली (New Delhi) । 7 अक्टूबर 2023 से शुरू हुए इजराइल और हमास (Israel and Hamas) के बीच युद्ध (war) में अब तक दोनों देशों के करीब 26 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक इजराइल ने गाजा (Gaza) में एक बार फिर हमला किया है. इस हमले में 24 घंटे के अंदर लगभग 150 लोगों की जान चली गई है. वहीं 313 लोग घायल हैं,

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इजराइली सेना ने बुधवार को बताया था कि उन्होंने उत्तरी गाजा में 15 से ज्यादा हमास के आतंकियों को मारा है. साथ ही उन्होंने एक स्कूल में बने आतंकी ठिकाने को भी निशाना बनाया.


यहूदी लोगों का नरसंहार
भारत में इजराइल के राजदूत नाओर गिलोन ने जारी संघर्ष को यहूदी लोगों के लिए नरसंहार (होलोकॉस्ट) की घटना के बाद सबसे खराब बताया. द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान नाजी जर्मनी और इसके सहयोगियों के हाथों लाखों की संख्या में यहूदी मारे गए थे, जिसे होलोकॉस्ट के नाम से जाना जाता है. गिलोन ने कहा कि गाजा में अब भी 136 अपहृत लोग हैं जो अमानवीय परिस्थितियों में रह रहे हैं. वहीं इजराइली राजदूत ने गाजा में जारी संघर्ष पर भारत सरकार के रुख की सराहना की.

हमास की मांगों को किया खारिज
हालांकि इजराइल हमास के बीच जंग थमने के आसार फिलहाल नजर नहीं आ रहे. क्योंकि पीएम नेतन्याहू ने हमास की दो प्रमुख मांगों को खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा कि इजराइल गाजा पट्टी से पीछे नहीं हटेगा या हजारों आतंकवादियों को रिहा नहीं करेगा. संघर्ष विराम पर बातचीत में ये दोनों बातें हमास की प्रमुख शर्त में रही हैं.

अतंरराष्ट्रीय कोर्ट के फैसले पर ऐतराज
वहीं हाल ही में जारी अतंरराष्ट्रीय कोर्ट के फैसले की नेतन्याहू ने अलोचना की थी. उन्होंने कहा था कि हम अपने देश और लोगों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं. हमारे लोगों की सुरक्षा के लिए जो भी कदम होंगे हम उठाएंगे. उन्होंने कहा था कि हर देश की तरह इजराइल को भी अपनी अखंडता की रक्षा करने का अधिकार है.

Share:

Next Post

अग्निपथ स्कीम के खिलाफ कांग्रेस ने छेड़ा अभियान, कहा- ‘डेढ़ लाख जवानों के साथ हुआ अन्याय’

Thu Feb 1 , 2024
नई दिल्‍ली (New Delhi) । बहुतेरे सवालों और प्रदर्शनों के बीच नरेंद्र मोदी की सरकार (Narendra Modi government) डेढ़ बरस पहले अग्निपथ स्कीम (Agneepath Scheme) लेकर आई थी. सरकार ने तय किया कि सेना में जवानों की भर्ती अब इसी प्रक्रिया के जरिये होगी. कांग्रेस पार्टी (congress party) ने फिर एक बार इस योजना के […]