भोपाल

किशोरी Kidnap, Panchmarhi Police की सक्रियता से बची

  • सातवीं कक्षा में पढ़ती है बच्ची, टैक्सी चालक ने किया था अगवा

भोपाल। राजधानी (Capital) में मानवतस्करों का गिरोह सक्रीय है। कल दिन दहाड़े पुलिस (Police) की चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था (Security System) के दावों के बीच तलैया इलाके से एक किशोरी का अपहरण हो गया। आरोपी ओला टैक्सी (Ola Taxi) से उसे पंचमढ़ी (Panchmarhi) तक ले जाने में कामयाब भी हो गए। गनीमत रही की पंचमढ़ी (Panchmarhi) में पुलिस चैकिंग के दौरान टैैक्सी चालक के साथ अकेली बच्ची को देख पुलिस ने गाड़ी को रोक लिया। चालक से सवाल करने पर वह गुमराह करने का प्रयास करने लगा। शक होने पर पुलिस (Police) ने तलैया पुलिस से संपर्क किया। तब बच्ची की जानकारी तलैया पुलिस (Police) को दी गई। देर रात पुलिस (Police) बच्ची और आरोपी चालक को भोपाल (Bhopal) ले आई है। पुलिस सूत्रों की माने तो हिरासत में लिए गए संदेही ने बच्ची को बेचने के इरादे से अगवा करने की बात स्वीकार की है। उसके गिरोह के अन्य सदस्यों के संबंध में पूछताछ की जा रही है। वहीं सूत्रों का दावा है कि क्राइम ब्रांच (Crime Branch) ने भी अगवा की गई चार लड़कियों को मुक्त कराया है। पुलिस (Police) जल्द पूरे मामले का खुलासा कर सकती है।
टीआई डीपी सिंह (TI D.p. Singh) के अनुसार 12 साल की किशोरी निजी स्कूल में सातवीं कक्षा की पढ़ाई कर रही है और गिन्नौरी इलाके में रहती है। वहीं उसके पिता और मामा दोनों डाक्टर (Doctor) हैं। बच्ची कल सुबह करीब आठ बजे घर के बाहर निकली और अचानक रहस्यमय हालातों में लापता हो गई। उसके परिजनों ने आस पास पूछताछ की तो पता लगा की कोई टैक्सी (Taxi) वाला उसे अपने साथ ले गया है। तत्काल परिजनों ने थाने पहुंचकर मामले की जानकारी दी। पुलिस (Police) ने अज्ञात के खिलाफ अपहरण का प्ररकण दर्ज कर मामले की जांच शुरु की। शाम करीब चार बजे पंचमढ़ी टीआई (Panchmarhi TI) ने तलैया पुलिस को उक्त बच्ची को एक टैक्सी ड्रायवर (Taxi Driver) के साथ पकड़े जाने की सूचना दी। बच्ची ने पूछताछ में स्वयंक को भोपाल (Bhopal) के गिन्नोरी इलाके का रहने वाला बताया था। आरोपी चालक बच्ची का परिचित नहीं था। जिससे पुलिस को उस पर संदेह हुआ था। पुलिस (Police) को देखते ही बच्ची रोने लगी तब चालक ने उसे अगवा करने की बात स्वीकार कर ली।

स्टेशन से दूसरे चालक के हवाले किया था बच्ची को
सूत्रों का दावा है कि आरोपी ने चालक ने बच्ची को अगवा करने के बाद भोपाल रेलवे स्टेशन (Bhopal Railway Station) पर उसे छोड़ा। जहां एक अन्य ओला टैक्सी (Ola Taxi) के चालक के हवाले उसे कर दिया गया। ओला टैक्सी (Ola Taxi) का चालक ही उसे लेकर पंचमढ़ी गया था। जहां वह पुलिस चैकिंग (Police Checking) के दौरान गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस सूत्रों का दावा है कि आरोपी मानव तस्करों के एक बड़े रैकेट (Racket) से जुड़ा है। जिसके अन्य साथियों की पुलिस पूछताछ (Police inquiry) में जुटी है। वहीं बच्ची के अगवा होने की सूचना के बाद क्राइम ब्रांच भी सक्रीय हुई थी। सूत्रों का दावा है कि आरोपी की निशानदेही से क्राइम ब्रांच (Crime Branch) ने पंचमढ़ी के आस पास के इलाकों से चार अन्य किशोरियों को बरामद किया है। पुलिस (Police) जल्द एक बड़े मानव तस्करों के गिरोह का खुलासा कर सकती है।

 

Next Post

Intelligence Report : PM Modi की Bangladesh यात्रा के दौरान बड़े पैमाने पर हिंसा की थी साजिश

Tue Mar 30 , 2021
ढाका। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की बांग्लादेश (Bangladesh) यात्रा के दौरान बड़े पैमाने पर हिंसा की साजिश रची गई थी। एक खुफिया रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि प्रतिबंधित संगठन जमात-ए-इस्लामी (Jamaat-e-Islami) ने बड़ी साजिश रची थी और इसके लिए पैसे भी बांटे गए थे। बता दें कि पीएम मोदी के दौरे […]