बड़ी खबर

नारदा मामला: TMC के चारों नेताओं को मिली जमानत

कोलकाता। नारदा स्टिंग मामले (Narada Sting Case) में टीएमसी के चार नेताओं (TMC 4 Leaders) की गिरफ्तारी के बाद वहां राजनैतिक भूचाल मच गया है। सीबीआई(CBI) की इस कार्रवाई के बाद टीएमसी कार्यकर्ता भारी संख्या में दफ्तर के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं, मामले में सीबीआई अदालत (CBI Court)में चल रही सुनवाई पूरी हो गई है। सीबीआई दफ्तर (CBI Office) से निकलने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी(West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee) ने कहा कि मामले में अदालत ही फैसला सुनाएगी। उधर, अदालत ने गिरफ्तार गिए गए चारों तृणमूल नेताओं को जमानत(Bail to all four Trinamool leaders) दे दी है।


इसके पहले टीएमसी कार्यकर्ताओं को प्रदर्शन करने से रोकने के लिए पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया था। ऐसा बताया जा रहा है कि सीबीआई के दफ्तर के बाहर सैकड़ों की संख्या में टीएमसी कार्यकर्ता मौजूद थे और टीएमसी कार्यकर्ताओं की ओर से पथराव भी किया गया। वहीं दफ्तर के अंदर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी लंबे समय तक मौजूद रहीं। तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने यहां झंडे लहराए और सीबीआई तथा केंद्र की भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। सीबीआई का दफ्तर निजाम पैलेस में केंद्र सरकार के कार्यालय परिसर में स्थित है। यहां पर बड़ी संख्या में सीआरपीएफ के जवान तैनात हैं तथा परिसर में अवरोधक लगाए गए हैं। कोलकाता पुलिस के जवान भी बड़ी संख्या में यहां मौजूद हैं।
सीबीआई ने सोमवार को तृणमूल कांग्रेस के नेता फरहाद हकीम, सुब्रत मुखर्जी और मदन मित्रा के साथ पार्टी के पूर्व नेता शोभन चटर्जी को नारदा स्टिंग मामले में कोलकाता में गिरफ्तार किया। नारदा स्टिंग मामले में कुछ नेताओं द्वारा कथित तौर पर धन लिए जाने के मामले का खुलासा हुआ था।

संविधान का पालन करें ममता: राज्यपाल
पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने ट्वीट कर इस मुद्दे पर चिंता जाहिर की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि पुलिस राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखने की कोशिश करे। इसके अलावा उन्होंने ममता बनर्जी से अपील करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी संविधान का पालन करें।
इसके अलावा जगदीप धनखड़ ने कहा कि कोलकाता पुलिस मूकदर्शक बनकर देख रही है। इलाके में स्थिति पूरी तरह से अराजक हो चुकी है। राज्यपाल ने कहा कि इलाके में पुलिस कानून व्यवस्था बनाए रखने की कोशिश करे।
बता दें कि साल 2014 में हुए नारदा स्टिंग ऑपरेशन की कार्रवाई के तहत सीबीआई ने इन चार नेताओं को गिरफ्तार किया है। हालांकि इस पर ममता बनर्जी ने नाराजगी जताते हुए कहा था कि अगर गिरफ्तारी करनी है तो मुझे भी गिरफ्तार कीजिए।

Next Post

गेहूं खरीदी केन्द्र में किसानों से हुई मारपीट, कई किसान लहूलुहान

Mon May 17 , 2021
सतना। सतना जिले के कोठी कस्बे (Kothi Town) में बने खरीदी केंद्र में सोमवार को व्यापारियों एवं उनके साथियों ने मिलकर किसानों के साथ जमकर की मारपीट, इस घटना में करीब 12 दर्जन किसान घायल हुए है, घायलों को उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी मौके […]