भोपाल

Corona से युद्ध जीतना है तो बेवजह घर से बाहर न निकलें लोग

  • मुख्यमंत्री ने सभी से की सहयोग की अपील

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कहा है कि कोरोना (Corona) का संकट अत्यंत विकट है, यह एक युद्ध है, जिसमें सबको सारे मतभेद भुलाकर एकजुट होकर लडऩा पड़ेगा। सरकार (Government) अपने स्तर पर पूरे प्रयास कर रही है, परन्तु जब तक समाज का पूरा सहयोग नहीं मिलेगा, हम कोरोना (Corona) को शीघ्र नियंत्रित नहीं कर पाएंगे। कोरोना (Corona) से जीतने के लिए लोग घर में ही रहें। बेवजह घर से बाहर न निकलें। मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि बढ़ते कोरोना संक्रमण (Corona infection) को देखते हुए संक्रमण (Infection) की चेन को तोडऩा बहुत आवश्यक है। उन्होंने जनता से अपील की कि आगामी 30 अप्रैल तक कोई भी अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकले। गाँव, मोहल्लों, कॉलोनियों, बिल्डिंग्स (Villages, mohallas, colonies, buildings) आदि में लोग जनता कर्फ्यू (Curfew) लगाएँ। इस दौरान आवश्यक वस्तुएँ दो-चार व्यक्ति जाकर ले आएँ। बाहर जाते समय मास्क (Mask) अनिवार्य रूप से लगाएँ। सामाजिक दूरी रखें तथा अन्य कोरोना (Corona) संबंधी सावधानियों का पालन करें। मुख्यमंत्री चौहान (Chief Minister Chauhan) ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि सभी के सहयोग से हम इस लड़ाई को जल्दी जीतेंगे। कोरोना (Corona) शीघ्र हारेगा। उन्होंने कोरोना (Corona) के विरुद्ध लड़ाई में सभी धार्मिक, सामाजिक, राजनैतिक तथा अन्य संगठनों एवं जन-सामान्य से पूरा सहयोग करने की अपील की।

रेमडेसिविर इंजेक्शन आपूर्ति
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में 8 अप्रैल से अब तक सरकारी सप्लाई और निजी क्षेत्र की सप्लाई मिलाकर लगभग एक लाख रेमडेसिविर इंजेक्शन आ चुके हैं। आज हैटरो कंपनी से 12 हजार इंजेक्शन की सरकारी सप्लाई प्राप्त हो रही है। मॉयलॉन कंपनी से 20 अप्रैल को 20 हजार इंजेक्शन प्राप्त होंगे।

सरकारी भवनों में खुलेंगे निजी अस्पताल
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के इलाज में निजी अस्पतालों की भी महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि यदि इस समय कोई निजी अस्पताल चालू करना चाहता है, तो उसे शासकीय भवन व अन्य सुविधाएँ प्रदान की जाएंगी। इन्दौर में राधा स्वामी सत्संग व्यास द्वारा एक बड़ा कोविड केयर सेंटर प्रारंभ किया गया है।

निरंतर बढ़ रही है ऑक्सीजन की आपूर्ति
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति निरंतर बढ़ाई जा रही है। प्रदेश में 8 अप्रैल को 130 एमटी ऑक्सीजन की आपूर्ति थी। वहीं 14 अप्रैल को यह बढ़कर 280 एमटी, 16 अप्रैल को 350 एमटी तथा 17 अप्रैल को 390 एमटी हो गई। आगामी 30 अप्रैल तक प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति 700 एमटी हो जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इसके लिए केन्द्र सरकार को धन्यवाद भी दिया। उन्होंने बताया कि इसके अलावा जिलों में छोटे-छोटे ऑक्सीजन प्लांट प्रारंभ किए जा रहे हैं, तथा बड़ी संख्या में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भी भिजवाए जा रहे है।

Next Post

CM केजरीवाल के ऐलान के बाद शराब की दुकानों पर उमड़ी भीड़, देखिए PICS

Mon Apr 19 , 2021
नई दिल्ली। राजधानी में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण की बेकाबू रफ्तार के बीच दिल्ली (Delhi) के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwa) ने जैसे ही 6 दिन के संपूर्ण लॉकडाउन (Lockdown) का ऐलान किया उसके बाद कई जगह अफरातफरी का माहौल देखने को मिला। संक्रमण की चैन तोड़ने के लिए लिए गए इस फैसले के फौरन […]