विदेश

ओवर स्पीडिंग के लिए कटा 7.46 करोड़ रुपये का चालान, सिर पकड़कर बैठ गया शख्स

नई दिल्लीः आपने आज तक बड़े-बड़े चालानों के बारे में सुना होगा, लेकिन आज जिस चालान की जानकारी हम आपको दे रहे हैं वो हजारों में नहीं, लाखों में भी नहीं, बल्कि करोड़ों में किया गया है. एक मर्सिडीज SLS AMG के चालक पर ओवर स्पीड के लिए इतना बड़ा चालान किया गया है जिसकी राशि सुनकर आपके होश उड़ सकते हैं.

बात 2010 की है जब स्विट्जरलैंड में एक 37 वर्षीय पुरुष को दुनिया में अबतक का सबसे बड़ा चालान थमाया गया जिसकी कार का स्पीडोमीटर भी चालू नहीं था. पुलिस को साफ पता लग चुका था कि चालक को ओवरस्पीडिंग की जानकारी है और यहां उसे 10 लाख Dollar (करीब 7 करोड़ 46 लाख रुपये) का चालान थमाया गया.

सबसे बड़ी पेनल्टी इस कार चालक पर
कांटन ऑफ वू की पुलिस ने पाया कि चालक 125 मील/घंटा यानी 180 किमी/घंटा रफ्तार पर कार चला रहे थे जो तय सीमा से 105 मील/घंटा अधिक थी. स्पीड लिमिट के इस कदर उल्लंघन को देखते हुए पुलिस से सबसे बड़ी पेनल्टी इस कार चालक पर लगाई. स्विज जानकारी के मुताबिक इस नियम के उल्लंघन पर 300 दिनों तक रोजाना 3,600 डॉलर (करीब 2.68 लाख) चुकाने होंगे. हालांकि सामान्य ओवरस्पीडिंग पर इतना चालान नहीं होता, लेकिन 180 किमी/घंटा की रफ्तार को वहां आपराधिक गतिविधी माना जाता है.

दैनिक कमाई का एक हिस्सा होता है चालान
चालान करते समय पुलिस ने सुरक्षा को तार-तार करने और किसी बहुत बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकने की बातों को ध्यान में रखा था. स्पीड रोमांचित जरूर करती है, लेकिन किसी विषम परिस्थिति में ये बड़ी दुर्घटना का कारण भी बन सकती है. बता दें कि स्वीडन में चालान अमुक व्यक्ति की दैनिक कमाई का एक हिस्सा होता है, ऐसे में 300 दिन तक बड़ी राशि को मिलाकर इतना बड़ा चालान ओवरस्पीडिंग के लिए किया गया है.

Share:

Next Post

इंटरनेट कंटेंट की जिम्मेदारी भी तय होनी चाहिए : केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव

Thu Nov 25 , 2021
नई दिल्ली। केंद्रीय आईटी मंत्री (Union IT Minister) अश्विनी वैष्णव (Ashwini Vaishnav) ने कहा है कि इंटरनेट (Internet) अर्थव्यवस्था (Economy) और समाज (Society) का अभिन्न हिस्सा बन गया है, इसलिए इंटरनेट (Internet) के जरिए आने वाले हर तरह के कंटेंट (Content) की जिम्मेदारी (Responsibility) तय (Fixed) करना समय की मांग है। पहले भारत इंटरनेट गवर्नेंस […]