मनोरंजन

आस्था के महापर्व छठ पर भक्ति गीतों से सराबोर हुआ माहौल

आस्था का महापर्व छठ (chhath festival of faith) आज नहाये -खाये के साथ शुरु हो गया है। पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाने वाले इस पर्व पर हर तरफ एक अलग ही माहौल देखने को मिलता है। हर तरफ श्रद्धा और भक्ति का माहौल होता है और हर तरफ छठ गीत (chhath song) सुनाई देते हैं। आज हम अपने पाठकों को बता रहे हैं कुछ ऐसे छठ गीतों के बारे में जो काफी मशहूर हैं और खास इस पर्व पर सुने जा सकते हैं ।

केलवा के पात पर…

शारदा सिन्हा की आवाज में गाया हुआ यह गीत इस साल भी छठ पर्व पर खूब सुना जा रहा है। दर्शक इस गीत को काफी पसंद कर रहे हैं।

ऊ जे केरवा जे फरेला घवध से, ओह पर सुगा मेड़राए


छठ महापर्व पर अनुराधा पौडवाल की ख़ूबसूरत आवाज में गाया हुआ यह गीत भी काफी पसंद किया जाता है और लगभग हर घर में छठ पूजा के मौके पर इस गीत को सुना जा सकता है।

जोड़े-जोड़े फलवा सुरुज देव

भोजपुरी गायक पवन सिंह की आवाज में गाया गया यह गीत भी छठ पूजा के मौके पर श्रद्धालुओं के बीच अक्सर सुना-सुनाया जाता है। इस साल भी छठ महापर्व पर यह गीत दर्शकों के बीच छाया हुआ है।

उउगा हो सुरुजदेव भिन भिनसरवा

अनुराधा पौडवाल की आवाज में ‘उउगा हो सुरुजदेव भिन भिनसरवा , अरघ केर-बेरवा , पूजन केर-बेरवा हो’ गीत भी सुबह अर्घ्य के समय खूब सुना जाता है।

इन सब के अलावा नदिया के तीरे तीरे…,पहिले पहिए छठी मैया…,हो दीनानाथ…आदि गीत भी काफी ,मशहूर है और छठ महापर्व पर सुने जाते हैं। तो आप भी आनंद उठाइए छठ पूजा पर फिल्माए इन गीतों का। हमारी तरफ से आप सभी को छठ की हार्दिक शुभकामनाएं।

 

 

Share:

Next Post

बुझो तो जाने — आज की पहेली

Sat Oct 29 , 2022
29 अक्टूबर 2022 1. शुरू कटे तो कान कहलाऊं, बीच कटे तो मन बहलाऊं। परिवार की मैं करूँ सुरक्षा बारिश, आँधी, धूप से रक्षा। उत्तर……..मकान 2. सोने की वह चीज है, पर बेचे नहीं सुनार । मोल तो ज्यादा है नहीं, बहुत है उसका भार । उत्तर…….चारपाई 3. नकल उतारे सुनकर वाणी, चुप-चुप सुने सभी […]