जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

बुध के राशि परिवर्तन से इन 5 राशियों की चमकेगी किसस्‍त, देखें कहीं आप तो नहीं यहां शामिल

नई दिल्ली। ज्योतिषशास्त्र (Astrology) के अनुसार 21 अगस्त 2022 का दिन बेहद महत्वपूर्ण है। इस दिन बुध देव राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं। बुध देव (Mercury god) इस दिन कन्या राशि में प्रवेश कर जाएंगे। इस समय बुध देव सिंह राशि में विराजमान हैं। बुध देव को ज्योतिष में विशेष स्थान प्राप्त है। बुध देव (Virgo) को बुद्धि, तर्क, संवाद, गणित, चतुरता और मित्रता का कारक ग्रह कहा जाता है। बुध देव के राशि परिवर्तन करने से कुछ राशियों का सोया हुआ भाग्य भी जाग जाएगा और खूब धन- लाभ होगा। आइए जानते हैं 21 अगस्त से किन राशि वालों के अच्छे दिन शुरू होने जा रहे हैं-

मिथुन राशि-
भाग्योदय होना तय है।
धन- लाभ (money gain) होगा।
पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा।
खूब मान- सम्मान मिलेगा।
पद- प्रतिष्ठा में वृद्दि होगी।
निवेश करने से लाभ होगा।

कर्क राशि-
आत्मविश्वास में वृद्दि होगी।
कार्यक्षेत्र में आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की जाएगी।
धन- लाभ होगा।
आय के स्रोतों में वृद्दि होगी।
स्वास्थ्य (Health) संबंधित समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।
कार्यों में सफलता (success) प्राप्त करेंगे।
वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा।
सूर्य ने सिंह राशि में प्रवेश कर मचाई हलचल, जानें किसे होगा फायदा- नुकसान

सिंह राशि-
आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।
कार्यों में सफलता प्राप्त करने के लिए अधिक मेहनत नहीं करनी पड़ेगी।
लेन- देन के लिए समय शुभ है।
निवेश करने से लाभ होगा।
नौकरी और व्यापार में तरक्की के योग बन रहे हैं।
मान- सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्दि होगी।

वृश्चिक राशि-
आर्थिक समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।
नौकरी और व्यापार के लिए समय शुभ है।
दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा।
मित्रों का सहयोग प्राप्त होगा।
आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की जाएगी।
वृश्चिक राशि के जातकों के लिए ये समय किसी वरदान से कम नहीं कहा जा सकता है।

मीन राशि-
कार्यों में सफलता प्राप्त करेंगे।
धन- लाभ होगा।
शत्रुओं से छुटकारा मिलेगा।
दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा।
आत्मविश्वास में वृद्धि होगी।
माता और पिता का सहयोग प्राप्त होगा।
किस्मत का पूरा साथ मिलेगा।
शत्रुओं पर विजय प्राप्त करेंगे।
मेहनत का फल अवश्य मिलेगा।

(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।)

Share:

Next Post

कब और किसके हाथों हुई थी श्री कृष्‍ण की मृत्यु? पौराणिक कथा से जानें रहस्‍य

Fri Aug 19 , 2022
नई दिल्ली। भगवान श्रीकृष्ण (Lord Shri Krishna) का जन्मोत्सव हर साल भाद्रपद के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है. ऐसी मान्यताएं हैं कि भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भाद्रपद माह (Bhadrapada month) के कृष्ण की अष्टमी तिथि को रोहिणी नक्षत्र (Rohini Nakshatra) में हुआ था. लेकिन क्या आप जानते हैं […]