जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

इन 5 घरेलू उपाय से दूर हो जाएगी खर्राटों की समस्या, जल्द मिलेगा आराम

मुंबई। कई लोगों की आदत तेज-तेज खर्राटे लेने की होती है. इसकी वजह से आसपास सोने वालों की पूरी नींद ही खराब हो जाती है. खर्राटे आने की एक नहीं कई कारण हो सकते हैं. सोते समय श्वसन तंत्र में रुकावट आने पर शरीर के अंदरूनी सेल्स के कंपन से अनचाही आवाज आती है. कुछ लोगों को थकान या तनाव की वजह से भी खर्राटे आते हैं इसके अलावा, कुछ स्वास्थ्य समस्याओं की वजह से भी खर्राटे (Snoring) आ सकते हैं. इसलिए इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. आइए जानते हैं खर्राटों से छुटकारा पाने के कुछ घरेलू उपाय…


खर्राटों से छुटकारा पाने के उपाय

1. जैतून का तेल
जैतून के तेल में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो सूजन की समस्या को दूर करने का काम करते हैं. इससे सांस लेने में तकलीफ नहीं होती है. खर्राटों को दूर करने में जैतून के तेल काफी फायदेमंद हैं. रात में सोते समय जैतून के तेल की कुछ बूंदे नाक में डालकर सोने से जल्द ही आराम मिल सकता है.

2. हल्दी
खर्राटों से छुटकारा दिलाने में हल्दी असरदार हो सकता है. इसमें एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो नाक के कंजेशन और सूजन को खत्म करने में मदद करते हैं. रोज रात में सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध में चुटकीभर हल्दी पाउडर मिलाकर पीने से खर्राटों की समस्या दूर होगी और नींद भी अच्छी आएगी.

3. शहद
खर्राटों की परेशानी को दूर करने में शहद भी काफी काम आ सकता है. इसका एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटी-माइक्रोबियल गुण सांस लेने में आने वाली समस्या को दूर करने में मदद करते हैं. रात में सोने से पहले एक गिलास पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से जल्द ही फायदा मिलेगा.

4. देसी घी
खर्राटों को दूर करने में देसी घी काम आता है. देसी घी को हल्का सा गर्म करके उसकी कुछ बूंदे नाक में डाले. ऐसा नियमित तौर पर करने से खर्राटों की समस्या से जड़ से छुटकारा मिल सकता है और किसी दूसरे को भी परेशानी नहीं होगी.

5. लहसुन
साइनस के कारण भी खर्राटों की समस्या हो सकती है. ऐसे में लहसुन फायदेमंद हो सकता है. रात को सोने से पहले लहसुन की कलियों को भूनकर गुनगुने पानी के साथ निकलने से खर्राटों की दिक्कतें दूर हो सकती हैं.

Share:

Next Post

MP में कर्ज को लेकर कांग्रेस का आरोप- बड़ा वित्तीय संकट आएगा, BJP बोलीं- यह कमलनाथ की भ्रष्टाचारी सरकार नहीं

Fri Dec 8 , 2023
भोपाल। मध्यप्रदेश (MP) में सुनामी की तरह 166 सीट पर काबिज बीजेपी सरकार (BJP Govt.) की राह आसान नहीं है। नई सरकार के मुखिया को भारी वित्तीय संकट का सामना करना होगा। इसके अलावा संकल्प पत्र में वादों को पूरा करना भी नए मुख्यमंत्री के लिए आसान नहीं होगा। दरअसल प्रदेश सरकार पर 03 लाख […]