विदेश

बाइडन और ट्रंप फिर होंगे आमने-सामने, अपनी पार्टियों से चुने गए राष्ट्रपति उम्मीदवार

वाशिंगटन (Washington) । अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (US President Joe Biden) ने डेमोक्रेटिक प्राइमरी चुनाव में जीत हासिल कर ली है। वहीं पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (donald trump) ने भी रिपब्लिकन प्राइमरी चुनाव में जीत हासिल की। इसी के साथ दोनों ने अपने-अपने दलों की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी (presidential candidate) की ओर कदम बढ़ा दिया है। राष्ट्रपति बाइडन (81) ने जॉर्जिया में पार्टी के प्राइमरी चुनाव में आसानी से जीत हासिल की और अब वह राष्ट्रपति चुनाव के लिए पार्टी के संभावित उम्मीदवार बन गए हैं। बाइडन को कुल 3,933 डेलीगेट (मतदाताओं का प्रतिनिधित्व करने वाले पार्टी सदस्य) में से आधे से अधिक का समर्थन मिल चुका है। डेमोक्रेट उम्मीदार बनने के लिए 1,968 डेलीगेट के समर्थन की जरूरत होती है।

मंगलवार के नतीजों ने 2024 के आम चुनाव अभियान के लिए रास्ता साफ कर दिया है। अब सिर्फ आठ महीने से कम समय बचा है। यह आधुनिक अमेरिकी इतिहास में सबसे लंबे समय तक चलने वाला अभियान होगा। इसके अलावा, 68 वर्षों में देश का पहला ऐसा राष्ट्रपति चुनाव होगा जब दो उम्मीदवारों की एक बार फिर से भिड़ंत होगी। राष्ट्रपति पद के लिए आखिरी बार ऐसा संयोग 1956 में हुआ, जब रिपब्लिकन राष्ट्रपति ड्वाइट डी. आइजनहावर ने अपने डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी एडलाई स्टीवेन्सन को फिर से हरा दिया था। उन्होंने 1952 के चुनावों में भी एडलाई स्टीवेन्सन को हराया था।


बाइडन को अगस्त में शिकागो में ‘डेमोक्रेटिक नेशनल कन्वेंशन’ के दौरान औपचारिक रूप से पार्टी का उम्मीदवार घोषित किया जाएगा। ट्रंप (77) को अब तक 1,215 डेलिगेट का समर्थन मिल चुका है। ट्रंप को जुलाई में ‘रिपब्लिकन नेशनल कन्वेंशन’ में आधिकारिक तौर पर उम्मीदवार घोषित किया जाएगा। ट्रंप लगातार तीसरी बार राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार होंगे।

पिछली बार की तरह इस बार भी दोनों का मुकाबला लंबे समय से प्रतीक्षित था, हालांकि ट्रंप इस बार अलग-अलग मुकदमों का सामना करते हुए चुनाव लड़ेंगे। ट्रंप 25 मार्च को न्यूयॉर्क में किसी आपराधिक मुकदमे का सामना करने वाले अमेरिका के पहले पूर्व राष्ट्रपति बन जाएंगे। इस मामले में ट्रंप पर आरोप है कि उन्होंने ‘पॉर्न स्टार’ को किए गए गुप्त भुगतान को छिपाने के लिए गलत तरीके से रिकॉर्ड में हेरफेर की।

उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने बाइडन के अपनी पार्टी का उम्मीदवार बनने पर प्रसन्नता व्यक्त की। वहीं बाइडन की ओर से एक बयान जारी कर जीत तथा उम्मीदवारी पर प्रसन्नता व्यक्त की गई और ट्रंप को लोकतंत्र के लिए खतरा करार दिया गया। बाइडन ने कहा कि ट्रंप, ‘‘आक्रोश, प्रतिशोध का अभियान चला रहे हैं जो अमेरिका के मूल विचार को खतरे में डालता है।’’

मंगलवार को प्राइमरी चुनाव की पूर्व संध्या पर ट्रंप ने स्वीकार किया था कि बाइडन ही उनके सामने डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार होंगे। रिपब्लिकन प्राइमरी में जीत के बाद ट्रंप के प्रचार विभाग ने उनका एक वीडियो ‘एक्स’ पर पोस्ट किया। ट्रंप ने वीडियो में कहा, “यह एक बड़ी जीत है। अब हमें वापस काम में जुट जाना होगा क्योंकि हमारे पास देश के इतिहास में सबसे खराब राष्ट्रपति हैं। उनका नाम जो बाइडन है, जिन्हें कभी-कभी कुटिल जो बाइडन भी कहा जाता है, और उन्हें हराना ही होगा।”

Share:

Next Post

Alia Bhatt मानती हैं खुद को खुशनसीब, फिल्मों को लेकर कहीं ये बड़ी बात

Thu Mar 14 , 2024
डेस्क। आलिया भट्ट बॉलीवुड में किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। उन्होंने अपने छोटे से करियर में एक से बढ़कर एक हिट फिल्में दी हैं। सिर्फ बॉलीवुड ही नहीं बल्कि हॉलीवुड और टॉलीवुड में भी वे अपने अभिनय का जलवा बिखेर चुकी हैं। हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान आलिया ने अपने करियर और […]