जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

शुभ फलदायी भौम प्रदोष व्रत कब है? जानें तिथि व पूजा विधि


धार्मिक मान्‍यता के अनुसार प्रदोष व्रत प्रत्येक मास के दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को रखने का विधान है। प्रदोष का व्रत भोलेनाथ भगवान शिव (Lord Shiva) को समर्पित है। शास्त्रों के अनुसार, मंगलवार को प्रदोष का व्रत पड़ने पर इसे भौम प्रदोष कहा जाता है। हनुमान जी(Hanuman ji) को भगवान शिव का ही रूद्रावतार माना जाता है, इसलिए मान्यता है कि भौम प्रदोष (bhum pradosh) का व्रत करने से हनुमान जी भी प्रसन्न होते हैं। इसके साथ ही व्यक्ति के मंगल ग्रह संबंधी दोष भी समाप्त हो जाते हैं। 22 जून को पड़ने वाला भौम प्रदोष का संयोग अति शुभ फलदायी है। यहां हम विस्तार से भौम प्रदोष की तिथि, मुहूर्त तथा पूजा विधि के बारे में जानेंगे…

भौम प्रदोष व्रत 2021 तिथि एवं मुहूर्त
शास्त्रों में बताये नियमानुसार, मंगलवार (Tuesday) को पड़ने वाला प्रदोष व्रत, भौम प्रदोष कहलाता है। यह संयोग इस वर्ष ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी को पड़ रहा है। यह तिथि 22 जून को 10 बजकर 22 मिनट से प्रारंभ होकर 23 जून को प्रातः 6 बजकर 59 मिनट तक रहेगी। हालांकि भौम प्रदोष काल 22 जून को शाम 07 बजकर 22 मिनट से रात्रि 09 बजकर 23 मिनट तक रहेगा।इस समय में प्रदोष व्रत की पूजा करें। इस दिन भक्तिभाव से भगवान शिव की आराधना करने से सभी मनोकामनाएं (wishes) पूर्ण होती हैं तथा रोग-दोष से मुक्ति मिलती है।


भौम प्रदोष व्रत में ऐसे करें पूजा
भगवान शिव अपने भक्तों से अतिशीघ्र प्रसन्न होते हैं, इसलिए ही उन्हें भोलेनाथ भी कहा जाता है। प्रदोष के दिन भोलेनाथ को भक्तिभाव से बेल पत्र और जल चढ़ाने मात्र से भी प्रसन्न किया जा सकता है। शास्त्र सम्मत विधि से पूजन करने के लिए व्यक्ति को प्रदोष के दिन प्रातः काल स्नान आदि से निवृत्त होकर रेशमी कपड़ों से भगवान शिव के मण्डप का निर्माण करना चाहिए। इसके बाद शिवलिंग को स्थापित कर, आटे और हल्दी से स्वास्तिक बनाएं तथा भगवान शिव को प्रिय बेलपत्र, भांग, धतूरा, मदार पुष्प, पंचगव्य का भोग लगाना चाहिए। भगवान शिव के पंचाक्षर मंत्र से आराधना करें तथा संकल्प लेकर फलाहार व्रत रखना चाहिए। व्रत का पारण अगले दिन चतुर्दशी को स्नान – दान के साथ करना चाहिए।

नोट- उपरोक्त दी गई जानकारी व सूचना सामान्य उद्देश्य के लिए दी गई है। हम इसकी सत्यता की जांच का दावा नही करतें हैं यह जानकारी विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, धर्मग्रंथों, पंचाग आदि से ली गई है । इस उपयोग करने वाले की स्वयं की जिम्मेंदारी होगी ।

Next Post

Big News: ‘नागिन’ फेम एक्टर पर्ल वी पुरी को रेप केस में मिली जमानत?

Tue Jun 15 , 2021
डेस्‍क। नागिन फेम पर्ल वी (Pearl V Puri) पुरी को जमानत मिल गई है. एक्टर को नाबालिग लड़की के साथ रेप केस में गिरफ्तार किया गया था. खबर के अनुसार पर्ल वी पुरी को आखिरकार जमानत मिल गई है. एक्टर पर पास्को एक्ट लगाया गया था. एक्टर के जमानत की आधिकारिक पुष्टि अभी तक नहीं […]