देश

BJP की स्टार प्रचारकों की सूची से युवा नेता तेजस्वी सूर्या का नाम गायब, उठने लगे सवाल

नई दिल्‍ली (New Delhi) । भारतीय जनता पार्टी (BJP) के द्वारा कर्नाटक विधानसभा चुनाव (karnataka assembly election) के लिए स्टार प्रचारकों (star campaigners) की जो लिस्ट जारी की गई है, उनमें से भारतीय जनता युवा मोर्चा (BJYM) के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या (Tejasvi Surya) का नाम गायब है। भगवा पार्टी के इस फैसले के बाद कर्नाटक की राजनीति में इस युवा नेता की भूमिका और प्रभाव पर सवाल उठने लगे हैं। बेंगलुरु दक्षिण से तेजस्वी सूर्या को पार्टी के हिंदुत्व एजेंडे के मुखर समर्थक और विपक्षी दलों खासकर कांग्रेस का प्रखर आलोचक माना जाता है।

भाजपा द्वारा बुधवार को जारी की गई 40 स्टार प्रचारकों की सूची में उनका नाम नहीं है। सूची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा कर्नाटक और दूसरे राज्यों के कई वरिष्ठ नेताओं का नाम शामिल है।

भाजपा सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, तेजस्वी सूर्या का नाम स्टार कैंपेनर की लिस्ट में शामिल नहीं होई कोई बड़ी बात नहीं है। पार्टी उनके बारे में कुछ नाकारात्मक नहीं सोच रही है। हालांकि, आपको यह भी बता दें कि चलती फ्लाइट में उनके व्यवाहार के कारण इमरजेंसी डोर खुलने की नौबत आ गई थी। उन्होंने गलती का एहसास होने पर माफी भी मांगी थी।


बीजेपी के एक अधिकारी ने यह कहा है कि उनके निर्वाचन क्षेत्र और उनके संगठनात्मक कार्यों पर केंद्रित करने के कारण रणनिति के तहत उनका नाम इस लिस्ट में नहीं है। उन्होंने कहा, “वह कर्नाटक से सांसद हैं। हमारे लिए एक लोकप्रिय नेता हैं। वह वैसे भी पार्टी के लिए प्रचार कर रहे हैं। हमें संगठन के लोगों की भी जरूरत है, जिन्हें बैठकों के लिए शॉर्ट नोटिस पर भेजा जा सके।” एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एक भाजपा नेता ने नाम नहीं छापने की शर्त परकहा कि हर किसी पर हर समय चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी का बोझ नहीं डाला जा सकता है। सूत्र ने यह भी कहा है कि तेजस्वी सूर्या का लिस्ट में नाम नहीं होने का मतलब यह नहीं है कि वह चुनाव प्रचार नहीं करेंगे या उन्हें देखा या सुना नहीं जाएगा।

तेजस्वी सूर्या ने अभी तक इस विषय पर कोई टिप्पणी नहीं की है। उनके करीबी सूत्रों ने कहा कि भाजपा नेतृत्व ने सभी युवा नेताओं को सूची से बाहर रखने का फैसला किया है। एक सूत्र ने कहा, “तेजस्वी सूर्या को राज्य भर में कम से कम 50 निर्वाचन क्षेत्रों में प्रचार करने के लिए कहा गया है। वह कल पुत्तूर, ब्यंदूर और शिमोगा में जनसभाओं को संबोधित करेंगे।”

कर्नाटक से ही एक और सांसद और तेजस्वी सूर्या के साथी प्रताप सिम्हा को भी स्टार प्रचारकों की सूची से बाहर कर दिया गया है। उन्हें भी अपने कट्टर हिंदुत्व विचारों के लिए जाना जाता है। बीजेपी ने शिकारीपुरा सीट से चुनाव लड़ रहे पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के बेटे बीवाई विजयेंद्र को भी इस लिस्ट में शामिल नहीं किया है।

Share:

Next Post

चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं की जान बचाएगा आर्मी प्रोटोकॉल, केंद्र को जल्‍द सुझाव भेजेंगे एम्स के डॉक्‍टर्स

Thu Apr 20 , 2023
नई दिल्ली (New Delhi)। यमुनोत्री, गंगोत्री, केदारनाथ, बद्रीनाथ (Yamunotri, Gangotri, Kedarnath, Badrinath) की यात्रा में आर्मी प्रोटोकॉल (army protocol) श्रद्धालुओं की जान बचा सकता है। यदि श्रद्धालु ऊंचाई पर एक साथ चढ़ाई करने की जगह रुक-रुक चढ़ते है तो शरीर भी उसी के अनुकूल हो जाता है जिससे शरीर में होने वाले नुकसान को रोका […]