मनोरंजन

आमिर खान ने अपनी गलतियों के लिए मांगी क्षमा, सोशल मीडिया पर लिखा- मिच्छामि दुखणम…


डेस्क। बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहलाने वाले आमिर खान ने बुधवार को सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर अपनी गलतियों के लिए क्षमा मांगी है। जी हां, अभिनेता ने इंस्टाग्राम पर वीडियाे साझा किया है। इस वीडियो में एक व्यक्ति यह कहते हुए सुनाई दे रहा है कि “अगर मैंने कभी भी किसी भी तरह से आपका दिल दुखाया है तो मन, वचन, काया से आपसे क्षमा मांगता हूं।” आमिर के वीडियो पोस्ट करने के बाद से ही सोशल मीडिया यूजर्स तेजी से कमेंट कर रहे हैं और उन्हें उनकी गलतियां गिना रहे हैं।

आमिर खान द्वारा साझा किए गए वीडियो की शुरुआत शाहरुख खान की फिल्म ‘कल हो न हो’ के म्यूजिक से होती। इसके बाद एक व्यक्ति की आवाज आती है, जो यह कहता है, “मिच्छामि दुखणम…हम सब इंसान है, और गलतियां इंसान से ही होती है। कभी बोल से, कभी हरकतों से, कभी अनजाने में, कभी गुस्से में, कभी मजाक में, कभी नहीं बात करने से। अगर मैंने कभी भी तरह से आपका दिल दुखाया है तो मन, वचन, काया से आपसे क्षमा मांगता हूं।”


बता दें कि मिच्छामि दुखणम जैन धर्म का सबसे प्रमुख पर्व है, इसे दसलक्षण पर्व भी कहा जाता है। इस पर्व के दौरान सावर्जनिक तौर पर क्षमा मांगी जाती है। इस पर्व का आखिरी दिन ‘क्षमापना दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। इस दौरान लोग एक-दूसरे से बीते साल में हुई गलतियों के लिए क्षमा मांगते हैं। इस शब्द का अर्थ होता है, मैंने जो भी बुरा किया हो वो फलरहित हो। आमिर खान ने इस पर्व पर क्षमा मांगी है।

आमिर खान की इस पोस्ट पर कमेंट करते हुए एक यूजर ने लिखा, “कोई गलती नहीं की सर आपने, आपको माफी मांगने की जरूरत नहीं…बस अगली मूवी ऐसी लाओ की सबकी बोलती बंद हो जाए।” वहीं अन्य यूजर ने लिखा, “सिर्फ करीना को मूवीज में लेना नहीं और तुर्की और आईएसआई वालों से दूर रहा करो। फिर ये सब नाटक करने की जरूरत नहीं होगी।”

Share:

Next Post

शुरू होने जारी ऑस्कर के लिए भारतीय फिल्मों की स्क्रीनिंग, जानिए क्या है पूरी प्रक्रिया

Thu Sep 1 , 2022
मुंबई। ऑस्कर पुरस्कारों में हर साल इंटरनेशनल फीचर फिल्म अवार्ड कैटेगरी में मुकाबला करने के लिए दुनिया के तमाम देशों से उनका आधिकारिक प्रतिनिधित्व करने वाली फिल्में भेजी जाती हैं। इस कैटेगरी को ही पहले ‘बेस्ट फॉरेन लैंग्वेज फिल्म अवॉर्ड’ कहते थे। हर साल भारत से भी इन पुरस्कारों में एक फिल्म को भेजा जाता […]