करियर बड़ी खबर

NCERT की किताबों में बड़ा बदलाव, बाबरी मस्जिद का जिक्र नहीं; अयोध्या विवाद भी 2 पेज में सिमटा

नई दिल्ली। एनसीईआरटी की नई रिवाइज्ड किताबें बाजार में आ चुकी हैं। इसमें कई तरह का बदलाव किया गया है। किताबों में अयोध्या विवाद, बाबरी मस्जिद और गुजरात दंगों के संदर्भ में बदलाव किए गए हैं। कक्षा 12 की राजनीति विज्ञान की संशोधित किताब में बाबरी मस्जिद का जिक्र नहीं है। बाबरी मस्जिद की जगह ‘तीन गुंबद वाली संरचना’ का जिक्र किया गया है। वहीं अयोध्या विवाद के टॉपिक को 4 पेज की जगह 2 पेज का कर दिया गया है। गुजरात दंगों से संबंधित संदर्भों को भी हटाया गया है और किताब में कई महत्वपूर्ण ऐतिहासिक विवरण हटा दिए गए हैं।


क्या-क्या बदला या हटाया गया?

  • बाबरी मस्जिद की जगह तीन गुंबद वाली संरचना का जिक्र किया गया है।
  • अयोध्या विवाद से जुड़े टापिक्स 4 पेज की जगह 2 पेज में समेट दिए गए हैं।
  • बीजेपी की रथ यात्रा: सोमनाथ से अयोध्या तक की यात्रा का जिक्र नहीं है।
  • कार सेवक: 1992 की घटनाओं में स्वयंसेवकों की भूमिका हटा दी गई है।
  • सांप्रदायिक हिंसा: 6 दिसंबर 1992 को विध्वंस के बाद हुई हिंसा के संदर्भ हटा दिए गए हैं।
  • राष्ट्रपति शासन: भाजपा शासित राज्यों में राष्ट्रपति शासन लगाने को बाहर रखा गया है।
  • बीजेपी का अफसोस: अयोध्या की घटनाओं पर बीजेपी के अफसोस वाले बयानों को हटा दिया गया है।
  • गुजरात दंगों से संबंधित संदर्भों को हटाया गया है।
  • हुमायूं, शाहजहां, अकबर, जहांगीर और औरंगजेब जैसे मुगल सम्राटों की उपलब्धियों का विवरण देने वाली दो पेज की तालिका भी हटा दी गई है।
Share:

Next Post

इंदौर नगर निगम के धर्मदान के समापन कार्यक्रम में पहुंचे CM मोहन यादव, कहा- पूरे प्रदेश में 5 करोड़ 5 लाख पेड़ लगाएंगे

Sun Jun 16 , 2024
इंदौर: नगर निगम (Nagar Nigam) के धर्मदान (charity) के समापन के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव (CM Mohan Yadav) पहुंचे. मीडिया से बात करते हुए कहा मध्यप्रदेश सरकार द्वारा यह 5 जून से 16 जून तक जल गंगा संरक्षण अभियान (Ganga water conservation campaign) कार्यक्रम चलाया गया था, इस अभियान के तहत इंदौर (Indore) […]