देश भोपाल मध्‍यप्रदेश

देश का इतिहास राष्ट्रभक्तों की गाथाओं से भरा है: राज्यपाल

भोपाल। राज्यपाल मंगुभाई पटेल (Governor Mangubhai Patel) ने डाक विभाग द्वारा फिलैटली दिवस पर मध्यप्रदेश के 6 अनसुने नायक-नायिकाओं पर जारी विशेष आवरण और विरूपण मुहर का अनावरण आज राज भवन में किया।

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा कि हमारे देश का इतिहास ऐसे राष्ट्रभक्तों की गाथाओं से भरा है, जिन्होंने अपने तप और त्याग से देश को नई दिशा दी है। ऐसे नायक-नायिकाओं के सम्मान से समाज को प्रेरणा और प्रोत्साहन मिलता है। भावी पीढ़ी को समाज, प्रदेश और देश की सेवा का संकल्प और प्रेरणा मिलती है। उन्होंने डाक विभाग द्वारा प्रदेश के अनसुने नायकों-नायिकाओं पर विशेष आवरण जारी करने के प्रयासों की सराहना की। राज्यपाल ने कार्यक्रम के प्रारम्भ में दीप प्रज्जवलन कर शुभारम्भ किया। उन्होंने प्रदेश के राष्ट्र भक्तों टंट्या भील, गणेश प्रसाद वर्णी, हरि विष्णु कामथ, रतन कुमार गुप्ता, सहोदरा बाई राय और राधादेवी आजाद पर डाक विभाग के विशेष आवरण का अनावरण किया।

चीफ पोस्ट मास्टर जनरल श्री जितेन्द्र गुप्ता ने आजादी के अमृत महोत्सव और विशेष आवरण के संबंध में बताया कि विशेष अवसर, व्यक्ति और घटना को अविस्मरणीय बनाने के लिए डाक विभाग द्वारा डाक टिकट जारी किया जाता है। विशेष परिस्थितियों में टिकट जारी नहीं होने की स्थिति में विशेष आवरण जारी किया जाता है। उन्होंने बताया कि प्रदेश की आजादी में योगदान देने वाले राष्ट्र भक्तों के योगदान का स्मरण कराने के लिए विशेष आवरण को जारी किया गया है।

निदेशक मुख्यालय एस. शिवराम ने बताया कि राष्ट्रीय डाक सप्ताह का आयोजन अक्टूबर में किया जाता है। सप्ताह के दौरान विभाग के उत्पादों का प्रचार-प्रसार किया जाता है। इस वर्ष 11 से 17 अक्टूबर के दौरान आजादी का अमृत महोत्सव विभाग द्वारा मनाया जा रहा है। इसके तहत प्रदेश के अनसुने नायकों-नायिकाओं की स्मृति में विशेष आवरण जारी किया गया है। सहायक निदेशक व्यवसाय श्री चन्द्रेश जैन ने आभार प्रदर्शन किया।

Share:

Next Post

भारत को गति, शक्ति देगा "गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान":  PM मोदी

Wed Oct 13 , 2021
भोपाल/नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव में आत्म-निर्भर भारत के निर्माण के संकल्प के साथ हम अगले 25 वर्षों के भारत की बुनियाद रख रहे हैं। “पी.एम. गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान” (“PM Gati Shakti National Master Plan”) भारत के इसी आत्म बल और आत्म-विश्वास […]