इंदौर न्यूज़ (Indore News)

एटीएम कार्ड की क्लोनिंग कर बैंक ऑफ बड़ौदा के खातों पर हुआ था साइबर अटैक

इंदौर। बैंक ऑफ बड़ौदा की इंदौर और भोपाल की विभिन्न शाखाओं में हुए साइबर अटैक के मामले में दो शिकायतें इंदौर क्राइम ब्रांच के पास पहुंची हैं, जबकि भोपाल क्राइम ब्रांच के पास तीस से अधिक शिकायतें पहुंची हैं। कुछ दिन पहले बैंक ऑफ बड़ौदा की इंदौर और भोपाल की एक दर्जन से अधिक बैंक शाखाओं के खाताधारकों के खाते पर साइबर ठगोरों ने अटैक किया था, जिससे उनके खातों से बिना ओटीपी के पैसा निकल गया था। बैंक का मैसेज भी नहीं आया था। डीसीपी निमिष अग्रवाल ने बताया कि क्राइम ब्रांच के पास दो शिकायतें आई हैं। एक के खाते से 90 हजार और दूसरे के खाते से 60 हजार रुपए निकाले गए हैं। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि बैंक से डाटा लीक हुआ है, जिसका फायदा उठाकर साइबर ठगोरों ने दिल्ली में तीन स्थानों के एटीएम से कई लोगों के खाते से पैसा निकाला है। इन लोगों ने डाटा के आधार पर खाताधारकों के एटीएम कार्ड की क्लोनिंग की और फिर पैसा निकाला है। जांच के बाद केस दर्ज किया जाएगा। इस तरह सौ से अधिक लोगों के खातों को चूना लगाया गया है।


भोपाल क्राइम ब्रांच ने दर्ज किया केस
डीसीपी ने बताया कि भोपाल क्राइम ब्रांच के पास ऐसी तीस से अधिक शिकायतें पहुंची थीं, जिनमें लाखों रुपए खातों से निकाले गए हैं। इसके बाद भोपाल क्राइम ब्रांच ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इंदौर क्राइम ब्रांच उनके संपर्क में है, ताकि जानकारी को साझा किया जा सके। भोपाल पुलिस ने बैंक ऑफ इंडिया से जानकारी मांगी है। इसके अलावा दिल्ली में जिन एटीएम से पैसा निकाला गया है उनके फुटेज भी संबंधित बैंकों से मांगे गए हैं, ताकि आरोपियों तक पहुंचा जा सके।

Share:

Next Post

10 विधायकों के निलंबन पर भड़की भाजपा, कांग्रेस सरकार पर लगाए लोकतंत्र की हत्या के आरोप

Thu Jul 20 , 2023
बेंगलुरु। कर्नाटक विधानसभा में अपने 10 विधायकों की निलंबित पर भाजपा ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बासवराज बोम्मई ने कांग्रेस सरकार को तानाशाह बता दिया है और उस पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगाया है। बता दें कि विधानसभा की कार्यवाही में बाधा डालने के चलते विधानसभा स्पीकर यूटी खादेर […]