इंदौर न्यूज़ (Indore News)

दिल्ली रूट सबसे कमाऊ, नौ स्थायी ट्रेनों के साथ दो स्पेशल ट्रेनें भी दौड़ रहीं

इन्दौर। रेलवे के लिहाज से इंदौर से नई दिल्ली का रूट सबसे कमाऊ साबित हो रहा है। इस रूट पर नौ स्थायी ट्रेनें तो चल ही रही हैं और यात्रियों की भीड़ को देखते हुए दो स्पेशल ट्रेनें भी चलाना पड़ रही हैं। इस तरह 11 ट्रेनें फिलहाल पैक चल रही हैं, जिनमें कन्फर्म टिकट मिलना किस्मत की बात समझी जा रही है। कदाचित यह पहला मौका है, जब रेलवे इंदौर-दिल्ली रूट पर दोनों जोन से स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही हैं। अब तक यही देखा गया है कि कोई एक जोन ही स्पेशल ट्रेन चलाता है। यह पहला अवसर पर है जब इंदौर-नई दिल्ली (हजरत निजामुद्दीन) रूट पर पश्चिम और उत्तर रेलवे, दोनों स्पेशल ट्रेन चला रहे हैं। इसका सीधा मतलब यह है कि यह रूट रेलवे के लिए बहुत कमाऊ साबित हो रहा है, क्योंकि नियमित ट्रेनों के साथ स्पेशल ट्रेनें भी भर-भरकर चल रही हैं।

प्रीमियम ट्रेन की दरकार
इंदौर-दिल्ली रूट पर यात्रियों का दबाव इस ओर भी इशारा करता है कि इंदौर-नई दिल्ली के बीच एक राजधानी, दुरंतो, हमसफर या अन्य प्रीमियम श्रेणी की ट्रेन चलाने की बहुत जरूरत है। रेलवे चाहे तो इंदौर से मुंबई के साथ दिल्ली के लिए स्लीपर वंदे भारत ट्रेन भी चला सकता है।पश्चिम रेलवे फिलहाल हर शुक्रवार और रविवार इंदौर से हजरत निजामुद्दीन के लिए स्पेशल ट्रेन (09309) चला रहा है, वहीं उत्तर रेलवे इंदौर से हजरत निजामुद्दीन के लिए 1 जुलाई तक हर शनिवार, सोमवार और बुधवार को गरीब रथ श्रेणी की एसी एक्सप्रेस चला रहा है। दोनों ही गाडिय़ों को काफी अच्छा ट्रैफिक मिल रहा है।

ये नौ स्थायी ट्रेनें चल रही हैं दिल्ली रूट पर
इंदौर-ऊना हिमाचलप्रदेश, मालवा सुपरफास्ट, लक्ष्मीबाई नगर-ऋषिकेश एक्सप्रेस, लक्ष्मीबाई नगर-ऋषिकेश उज्जैनी एक्सप्रेस, इंदौर-नई दिल्ली सुपरफास्ट वाया रतलाम, इंदौर-नई दिल्ली इंटरसिटी, इंदौर-दिल्ली सराय रोहिल्ला वीकली एक्सप्रेस, इंदौर-अमृतसर द्विसाप्ताहिक एक्सप्रेस और इंदौर-उधमपुर साप्ताहिक एक्सप्रेस। इनमें से कुछ ट्रेनें रोज चल रही हैं, जबकि बाकी सप्ताह में एक, दो या तीन दिन चल रही हैं।

Share:

Next Post

इंदौर में पहली बार पौधारोपण की जियो टैगिंग गूगल मैप पर देख आम लोग जुड़ेंगे अभियान से

Sun Jun 16 , 2024
आज मुख्यमंत्री करेंगे अभियान की लांचिंग, लोगो और स्लोगन का होगा विमोचन इन्दौर। इंदौर में अगले माह होने वाला 51 लाख पौधारोपण का अभियान रिकार्डतोड़ होगा। यह अभियान 7 जुलाई से शुरू हो जाएगा। पौधारोपण से आम लोगों को जोडऩे के लिए आधुनिक तकनीक का सहारा लिया जा रहा है। पौधारोपण के स्थान की जियो […]