जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

देवगुरु 128 दिनों तक रहेंगे कुंभ राशि में विराजमान, इन राशि वालों पर करेंगे विशेष कृपा

नई दिल्‍ली । देवगुरु बृहस्पति (Devguru Brihaspati) को ज्ञान, शिक्षक, संतान, बड़े भाई, शिक्षा, धार्मिक कार्य, पवित्र स्थल, धन, दान, पुण्य और वृद्धि आदि का कारक ग्रह कहा जाता है। बृहस्पति ग्रह 27 नक्षत्रों में पुनर्वसु, विशाखा, और पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र के स्वामी होते हैं। देवगुरु इस समय कुंभ राशि (Aquarius) में विराजमान हैं। आने वाले 128 दिनों तक देवगुरु इसी राशि में विराजमान रहेंगे। देवगुरु बृहस्पति आने वाले 128 दिनों तक कुछ राशि वालों पर विशेष कृपा करेंगे। इन राशि वालों पर 128 दिनों तक कोई संकट नहीं आएगा। आइए जानते हैं 128 दिनों तक किन राशि वालों को मिलेगा किस्मत का पूरा साथ…

मेष राशि
शुभ परिणाम मिलेंगे।
धन- लाभ होगा।
आध्यात्मिक और धार्मिक कार्यों में हिस्सा लेने का अवसर मिलेगा।
नौकरी और व्यापार में तरक्की करेंगे।
वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा।
नया वाहन या मकान खरीदने के योग भी बन रहे हैं।
कार्यों में सफलता प्राप्त करेंगे।

मिथुन राशि
धन- लाभ होगा, जिससे आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।
किस्मत का पूरा साथ मिलेगा।
मिथुन राशि के जातकों के लिए ये समय वरदान के समान है।
वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा।
परिवार के सदस्यों का सहयोग मिलेगा।
खूब मान- सम्मान मिलेगा।
पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि के योग बन रहे हैं।

तुला राशि
तुला राशि के जातकों के लिए समय बेहद फलदायी रहने वाला है।
नौकरी और व्यापार के लिए ये समय शुभ रहेगा।
वैवाहिक जीवन में सुख का अनुभव करेंगे।
धन- लाभ होगा।
कार्यक्षेत्र में आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना होगी।
आपको नौकरी में नए अवसर प्राप्त होंगे।
धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में हिस्सा लेंगे।

वृश्चिक राशि
धन लाभ होगा जिससे आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।
मान- सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
नौकरी और व्यापार में लाभ के योग बन रहे हैं
शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों को शुभ फल की प्राप्ति होगी।
दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा।
कार्यक्षेत्र में सब आपके कार्य की तारीफ करेंगे।
परिवार के सदस्यों का सहयोग प्राप्त होगा।

सिंह राशि
आर्थिक समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।
नया वाहन या मकान खरीदने के योग बन रहे हैं।
कार्यों में सफलता प्राप्त करेंगे।
दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा।
परिवार के सदस्यों और मित्रों का सहयोग मिलेगा।
यह समय आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं रहने वाला है।

(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।)

Share:

Next Post

दिग्विजय को ज्योतिरादित्य सिंधिया के पूर्वजों पर ऊंगली उठाना पड़ा भारी, BJP ने दिया यह जवाब

Tue Dec 7 , 2021
भोपाल । ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) और उनके पूर्वजों पर गद्दारी के आरोप लगाना पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) को अब भारी पड़ सकता है। भाजपा ने दिग्विजय सिंह के पूर्वजों राघौगढ़ राजा बलभद्रसिंह (Raghogarh Raja Balbhadra Singh) पर हमला बोला है। पूर्वजों के अंग्रेजो के प्रति प्रेम होने के आरोप लगाए हैं और […]