जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

न्यूट्रिशन से भरपूर है अलसी के बीज, इस तरह करें सेवन, फिर मिलेंगे कमाल के फायदें

 

अलसी के बीज सेहत के लिए बेहद लाभकारी हैं। वजन घटाने से लेकर त्वचा, बाल और डाइजेशन (Digestion) की समस्या को दूर करने के लिए फ्लैक्स सीड्स का उपयोग किया जाता है। अलसी के बीज खाने से हार्ट से संबंधित बीमारियों में फायदा मिलता है और कोलेस्ट्रोल (cholesterol) कम होता है। अलसी के बीज खाने से डायबिटीज और ब्लड प्रेशर (blood pressure) भी कंट्रोल रहता है। यानि इस छोटे से दाने से आपको सेहतमंद रहने के लिए कई पोषक तत्व मिलते हैं। आज जानते हैं कि अलसी के बीज कैसे स्वास्थ्य के लिए किसी वरदान से कम नहीं है।

अलसी के बीज खाने के फायदे
अलसी के बीज यानि फ्लैक्स सीड्स (flax seeds) एक सुपर फूड है। जिसे खाने से आपको भरपूर न्यूट्रिशन (Nutrition) मिलते हैं। इसे खाने का आसर आपके चेहरे पर भी नज़र आता है।

अलसी सीड्स खाने से आपकी स्किन में निखार आता है और त्वचा चमकदार बनती है।

अलसी के बीज खाने से आपको सभी जरूरी पोषक तत्व जैसे आयरन, पोटेशियम, फास्फोरस (Phosphorus), कैल्शियम, सोडियम, फाइबर, ओमेगा-3 फैटी एसिड (Omega-3 Fatty Acid) मिलता है।


अलसी के बीज में पाए जाने वाले न्यूट्रिशन और मिनरल्स से पेट में अच्छे बैक्टीरिया बढ़ते हैं जिससे पाचन तंत्र मजबूत होता है।

फ्लैक्स सीड में ओमेगा 3 होता है और भरपूर मात्रा में फाइबर (fiber) होता है। अलसी के बीज खाने से डाइजेशन सिस्टम अच्छा काम करता है।

फ्लैक्स सीड्स में पाए जाने वाले कुछ पोषक तत्वों से सूजन, पार्किंसंस रोग और अस्थमा (asthma) जैसी बीमारियां भी दूर रहती हैं।

अलसी के बीज खाने से हार्ट संबंधी बीमारियां नहीं होती। डायबिटीज और ब्लड प्रेशर को भी अलसी के बीज कंट्रोल रखते हैं।

ऐसें कर सकतें हैं सेवन
आप अलसी को भूनकर एक एयर टाइट डब्बे में रख लें। इसे रोज सुबह उठकर एक चम्मच चबाकर खाएं।

अलसी को मिक्सी में पीसकर पाउडर बना लें। अब इसमें गुड़ मिलाएं रोज खा सकते हैं।

आप चाहें तो आटे में फ्लैक्स सीड्स का पाउडर मिला सकते हैं। आप पांच किलो आटे में 200 ग्राम तक फ्लैक्स सीड्स या उनका पाउडर मिक्स कर सकते हैं।

आप चाहें तो फ्लैक्स सीड्स को नाश्ते, सब्जियों, या सलाद के रुप में भी खा सकते हैं।

अगर आप स्वाद भी चाहते हैं तो सर्दियों में इसके अलसी के लड्डू बनाकर भी खा सकते हैं ।

नोट– उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍य सूचना के उद्देश्‍य के लिए हैं इन्‍हें किसी चिकत्‍सक के रूप में न समझें। कोई भी सवाल या परेंशानी हो तो विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें ।

 

Next Post

किसान आंदोलन : ग्रामीण को पहले शराब पिलाई, फिर शहीद का नाम देकर जिंदा जला दिया

Thu Jun 17 , 2021
बहादुरगढ़। बहादुरगढ़ के बाईपास पर गांव कसार के निकट किसान आंदोलन में गए गांव कसार के ही एक व्यक्ति को तेल छिड़ककर आग लगा दी गई। गंभीर रूप से झुलसे व्यक्ति की कुछ घंटों बाद उपचार के दौरान मौत हो गई। जींद के एक आंदोलनकारी पर तेल छिड़ककर आग लगाने का आरोप है। घटनास्थल पर […]