बड़ी खबर

कश्मीरी पंडित से लेकर पुलिस… घाटी में आम लोगों को आतंकी फिर बना रहे निशाना


नई दिल्ली: जम्मू और कश्मीर में पिछले कुछ दिनों में आंतकी घटनाएं बढ़ गई हैं. कश्मीर में शांति स्थापित होने की तमाम खबरों के बीच लगातार वहां से निर्दोष लोगों के मारे जाने की खबरें आ रही है. दिल्ली की एक विशेष अदालत ने 25 मई को कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक को टेरर फंडिंग केस में उम्र कैद की सजा सुनाई. साथ ही उस पर 10 लाख का जुर्माना भी लगाया. सजा के ऐलान के बाद से घाटी में तनाव का माहौल देखा जा रहा है.

जम्मू-कश्मीर के बड़गाम में 25 मई की शाम को ही आंतकवादियों ने एक टीवी अभिनेत्री आमरीन भट की गोली मारकर हत्या कर दी. इस हमले में आमरीन का 10 साल का भतीजा भी घायल हो गया. 35 साल की आमरीन को आतंकियो ने उसके घर में घुसकर गोली मारी. उन्हें घायल अवस्था में अस्पताल ले जाया गया जहां पर उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

बीते एक महीने में आंतकियों ने कई बार इस तरह की घटना को अंजाम देते हुए निर्दोष नागरिकों को मौत के घाट उतारा है. आईए बीते एक महीने के घटनाक्रम पर नजर डालते हैं….

24 मई 2022: आमरीन भट की मौत से ठीक एक दिन पहले 24 मई, 2022 को श्रीनगर में आंतकियों ने खुलेआम गोली बारी की जिसमें एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई और उसकी सात साल की बेटी घायल हुई. श्रीनगर के सौरा में हुए इस हमले में घायल हुए सैफुल्लाह कादरी ने अस्पताल ले जाने के दौरान ही दम तोड़ दिया था वहीं उनकी बेटी को अस्पताल में भर्ती किया गया.

17 मई 2022: इससे पहले 17 मई 2022 को आंतकियों ने बारामुला जिले के दीवान बाग इलाके में नई खुली शराब की दुकान पर ग्रेनेड फेंक दिया जिसमें 52 साल के रंजीत सिंह की मौत हो गई और 3 लोग बुरी तरह से घायल हो गए.

12 मई 2022: इसी तरह 12 मई, 2022 को बड़गाम जिले के ही एक कश्मीरी पंडित राहुल भट को आंतकियों ने गोली मार दी. ऐसा कहा जा रहा था कि राहुल पर टारगेट करके हमला किया गया. यानी यह सोच समझ कर किया गया हमला था. हमले के बाद राहुल को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया.

9 मई 2022: इस घटना से तीन दिन पहले यानी 9 मई, 2022 को शोपियां जिले के पांडोशन इलाके में मुठभेड़ के दौरान एक नागरिक की जान चली गई वहीं एक सैनिक सहित दो लोग घायल हो गए.

7 मई 2022: दो दिन पहले 7 मई 2022 को भी आतंकियों ने इसी तरह की घटना को अंजाम देते हुए सुबह के वक्त श्रीनगर के डॉ अली जान रोड पर अल्वा ब्रिज के पास हमला बोल दिया जिसमें पुलिस कांस्टेबल गुलाम हसन डार घायल हो गए और शाम तक उन्होंनें अस्पताल में दम तोड़ दिया.

17 अप्रैल 2022: पुलवामा जिले के काकापोरा इलाके में आंतकी हमले में रेल्वे प्रोटेक्शन फोर्स के सब-इन्सपेक्टर देवराज घायल हो गया और श्रीनगर के अस्पताल में इलाज के दौरान 22 अप्रैल को उन्होंनें अपनी जान गंवा दी.

Share:

Next Post

20 मिनट पहले पहुंची ट्रेन तो स्टेशन पर गरबा करने लोग, यात्री भी लगे झूमने

Thu May 26 , 2022
रतलाम: मध्य प्रदेश के रतलाम जिले से अनोखा वीडियो वायरल हुआ है. इस वीडियो में कई लोग रतलाम रेलवे स्टेशन पर धमाकेदार गरबा करते नजर आ रहे हैं. गरबा किया तो जा रहा था बोरियत दूर करने, लेकिन उस वक्त ऐसा समां बंधा की सभी झूम उठे. देखते-देखते ही सैकड़ों लोगों की भीड़ उन्हें देखने […]