जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

आज से लग रहा है ‘पंचक’, गलती से भी न करें ये कार्य, उठाना पड़ सकता है नुकसान

डेस्क। सनातन धर्म में कोई भी शुभ कार्य करने से पहले पंचांग में तिथि, नक्षत्र, योग, मुहूर्त का विशेष ध्यान रखा जाता है। मान्यता है कि यदि कोई भी कार्य शुभ मुहूर्त देखकर किया जाए तो वह शुभ फलदायक तो होता है साथ ही सफलता मिलने की संभावना भी ज्यादा रहती है। ऐसे पांच दिन बताए गए हैं, जिनमें शुभ कार्य करना अच्छा नहीं माना गया है। इन पांच दिनों को पंचक के नाम से जाना जाता है। तो चलिए जानते हैं, आज से शुरू होने के बाद कब तक रहेंगे पंचक और इस दौरान कौन से कार्य नहीं करने चाहिए।

कब से कब तक रहेंगे पंचक
इस बार अक्टूबर माह में ‘पंचक’ 06 अक्टूबर 2022 दिन गुरुवार यानी आज से लग रहा है और यह 10 अक्टूबरर 2022 दिन सोमवार को समाप्त होगा। वैसे तो पंचक के दिनों में शुभ कार्य वर्जित रहते हैं लेकिन इसकी शुभता और अशुभता इस बात पर निर्भर करती है कि पंचक किस दिन से शुरू हो रहे हैं। ज्योतिष के अनुसार गुरुवार से शुरू होने वाले पंचक ज्यादा अशुभ नहीं माने जाते हैं। हालांकि नियमों का पालन करना आवश्यक होता है।

पंचक का समय

  • पंचक प्रारंभ- 06 अक्टूबर, 2022 पूर्वाह्न 08 बजकर 28 मिनट से
  • पंचक समाप्त- 10 अक्टूबर, 2022 शाम 04 बजकर 02 मिनट पर

पंचक में नहीं करने चाहिए ये कार्य

  • पंचक के दिनों में दक्षिण दिशा में यात्रा नहीं करनी चाहिए, क्योंकि इसे पितरों और यम की दिशा माना गया है।
  • पंचक के दौरान नई चारपाई, पलंग आदि नहीं बनवाने चाहिए और निबाड़ वाली चारपाई की बुनाई भी न करवाएं।
  • पंचक के दौरान अपने घर की छत नहीं पड़वानी चाहिए और न ही घर निर्माण कार्य शुरु करवाएं। मान्यता है कि पंचक में बनवाए गए घर में हमेशा हानि लगी रहती है।
  • पचंक के दौरान लकड़ी की चीजों का काम नहीं करवाना चाहिए और साथ ही जलने वाली चीजें जैसे उपले और लकड़ी को कहीं से लाकर घर में एकत्रित नहीं करना चाहिए।
Share:

Next Post

अब टेंशन फ्री होकर चलाएं गाड़ी! नहीं कटेगा चालान, बस साथ में रखे Smart fone, जानिए कैसे

Thu Oct 6 , 2022
नई दिल्ली । अधिकांश लोग अपने वाहन से चलना ज्यादा पसंद करते हैं, क्योंकि लोग पब्लिक ट्रांसपोर्ट (public transport) के धक्कों से बचना चाहते हैं। इसके अलावा अपने वाहन (Vehicle) से जाने का एक सबसे बड़ा फायदा (big advantage) है कि आप समय पर पहुंच जाते हैं। गाड़ी से ऑफिस, स्कूल और किसी अन्य जगह […]