व्‍यापार

Gold Silver Price Today: आज फिर महंगा हुआ सोना, चांदी की कीमत भी बढ़ी, कैरेट के हिसाब से जानें लेटेस्ट रेट

नई दिल्ली। एक तरफ शेयर बाजार तेजी से गिर रहा है, वहीं सोने में मजबूती देखने को मिल रही है। पिछले कारोबारी सत्र में सोना 48,176 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। चांदी की कीमत भी 80 रुपये की तेजी के साथ 64,793 रुपये प्रति किलोग्राम (Silver price today) पर बंद हुई। पिछले कारोबारी सत्र में यह 64,713 रुपये प्रति किलोग्राम रही थी।

सोने की कीमतों में भले ही आज तेजी देखी जा रही है, लेकिन लंबी अवधि में सोना करीब 7700 रुपये सस्ता हो चुका है। पिछले साल अगस्त में सोना 56,200 रुपये के अपने उच्चतम स्तर तक जा पहुंचा था और अभी सोना 48,431 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर के करीब पहुंच गया है। इस तरह सोने की कीमत अब तक करीब 7700 रुपये गिर चुकी है। अगर आप सोना खरीदने की सोच रहे हैं तो ये खरीदारी का अच्छा मौका है।

अगर बात सोने की करें तो पिछले साल सोने ने लगभग जीरो फीसदी रिटर्न दिया है। इससे पहले 2020 में सोने ने 28 फीसदी का रिटर्न दिया था। उससे पिछले साल भी सोने का रिटर्न करीब 25 फीसदी रहा था। अगर आप लॉन्ग टर्म के लिए निवेश कर रहे हैं तो सोना अभी भी निवेश के लिए बेहद सुरक्षित और अच्छा विकल्प है, जिसमें शानदार रिटर्न मिलता है।

पिछले सालों में सोने से मिला रिटर्न आपके सामने है, जो दिखाता है कि निवेश करने से फायदा ही है। सोना हमेशा ही मुसीबत की घड़ी में खूब चमका है। 1979 में कई युद्ध हुए और उस साल सोना करीब 120 फीसदी उछला था। अभी हाल ही में 2014 में सीरिया पर अमेरिका का खतरा मंडरा रहा था तो भी सोने के दाम आसमान छूने लगे थे।

हालांकि, बाद में यह अपने पुराने स्तर पर आ गया। जब ईरान से अमेरिका का तनाव बढ़ा या फिर जब चीन-अमेरिका के बीच ट्रेड वॉर की स्थिति बनी, तब भी सोने की कीमत बढ़ी। इसी तरह कोरोना काल हावी हुआ तो भी सोने में तगड़ी तेजी आई और सोना 56,200 रुपये के उच्चतम स्तर तक जा पहुंचा। अब जब ओमिक्रोन के चलते स्थिति बिगड़ती दिख रही है तो सोने की चमक फिर से बढ़ रही है।

Share:

Next Post

Covid-19 : केंद्रीय मंत्री मंडाविया आज करेंगे 9 राज्यों के साथ बैठक, असम में बिना टीकाकरण के सार्वजनिक स्थानों में जाना प्रतिबंधित

Tue Jan 25 , 2022
नई दिल्‍ली । देश में लगातार पांचवें दिन तीन लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमित (corona infected) मिले हैं। वहीं, राष्ट्रीय स्तर पर संक्रमण दर (infection rate) 20 फीसदी के पार निकल गई है। राहत की खबर यह है कि चार महानगरों दिल्ली, मुंबई, चेन्नई व कोलकाता (Delhi, Mumbai, Chennai and Kolkata) में तीसरी लहर (third […]