देश

भारतीय सेना ने तैयार किया ‘मल्‍टीपर्पज ऑक्‍टोकॉप्‍टर’ दुश्‍मनों का बनेगा काल

नई दिल्‍ली (New Delhi)। दुश्मन के नापाक मंसूबों को नेस्तनाबूद करने के लिए भारतीय सेना ने अपना खुद का एक ‘मल्‍टीपर्पज ऑक्‍टोकॉप्‍टर’ (multipurpose octocopter) तैयार किया है. कई खूबियों से लैस इस ऑक्‍टोकॉप्‍टर (multipurpose octocopter) का सफल परीक्षण हो चुका है और जल्द ही इसे जम्मू और कश्मीर सहित सीमावर्ती इलाकों के तैनात किए जाने की तैयारी है. सीमावर्ती इलाको में ऑक्‍टोकॉप्‍टर की तैनाती के बाद दुश्‍मन की गतिविधियों को न केवल समय रहते ट्रेस किया जा सकेगा, बल्कि उन्‍हें मौके पर ही उनके अंजाम तक पहुंचाया जा सकेगा.

यह मल्‍टीपर्पज ऑक्‍टोकॉप्‍टर पूरी तरह से भारतीय सेना द्वारा तैयार किया गया है. कई खू‍बियों से लैस यह ऑक्‍टोकॉप्‍टर चार तरह से दुश्‍मन को छक्‍के छुड़ाने के लिए कारगर है. पहला- इस ऑक्‍टोकॉप्‍टर में लगा 30 एक्‍स जूम वाला शक्‍तिशाली कैमरा दूर से दुश्‍मन की टोह लेने में सक्षम है. दूसरा- ऑक्‍टोकॉप्‍टर में लगे नेवीगेशन सिस्‍टम से दुश्‍मन की सही लोकेशन का पता लगाया जा सकेगा. तीसरा- ऑक्‍टोकॉप्‍टर दुश्‍मन के घर में घुसकर उसे नेस्‍तनाबूद करने में सक्षम है. और चौथा – विपरीत परिस्थितयों में यह ऑक्‍टोकॉप्‍टर रसद सामग्री पहुंचाने में भी भारती सेना की मदद करेगा.



दुश्‍मन को खोजने से लेकर अंजाम तक पहुंचाने में सक्षम
भारतीय सेना के कर्नल अमित कुमार ने बताया कि यह ऑक्‍टोकॉप्‍टर न केवल कार्गो ड्रोन के रूप में काम कर सकता है, बल्कि इसको तरह-तरह के अत्‍याधुनिक हथियारों से भी लैस किया गया है. पूरी तरह से भारतीय सेना द्वारा तैयार इस मल्‍टीपर्पज ऑक्‍टोकॉप्‍टर में एके-47 राइफल के साथ-साथ एमजीएल जैसे हथियार लगाए गए हैं. ऑक्‍टोकॉप्‍टर में लगा बेहद पॉवरफुल कैमरा 14 हजार फीट की ऊंचाई से दुश्‍मन को खोजने में समक्ष है. साथ ही, इसमें लगी एके-47 राइफल के जरिए दुश्‍मन को बिना समय गंवाए उसके अंजाम तक पहुंचा जा सकता है.

ऑक्‍टोकॉप्‍टर से दुश्‍मन पर ग्रेनेड से भी किया जा सकता है हमला
कर्नल अमित कुमार ने बताया कि ऑक्‍टोकॉप्‍टर में चार ग्रेनेड लॉन्चर भी लगाया गया है. इस ग्रेनेड लॉन्चर की मदद से दुश्‍मन पर चार ग्रेनेड एक बार में फायर किए जा सकते हैं. इमसें लगे जीपीएस सिस्‍टम की मदद से दुश्‍मन पर पिन प्‍वांइट टारगेट लिया जा सकता है. ऑक्‍टोकॉप्‍टर में बेहद पॉवरफुल कैमरा लगाया गया है, जिसे 30 एक्‍स तक जूम किया जा सकता है. कैमरे की मदद से इस ऑक्‍टोकॉप्‍टर का इस्‍तेमाल सर्विलांस ड्रोन के तौर पर भी किया जा सकता है् इसका लंबा बैटरी बैकअप यह लंबे समय तक हवा में रहकर संदिग्‍ध गतिविधियों अपनी नजर रख सकता है.

Share:

Next Post

हमास कमांडर सुरंग में मिला घूमता, इजरायल बोला- जिंदा या मुर्दा; पकड़कर रहेंगे

Wed Feb 14 , 2024
तेल अवीव (tel aviv)। इजरायल और हमास (Israel and Hamas) के बीच पिछले कई महीने से युद्ध चल रहा है। अब तक 28 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। हमास के आतंकियों ने सात अक्टूबर को इजरायल में अचानक हमला कर दिया था, जिससे कई लोगों की मौत हो गई और बड़ी […]