विदेश

भारतीय मूल की सुनीता विलियम्स ने रचा इतिहास, अंतरिक्ष यान उड़ाने वाली पहली महिला बनीं


नई दिल्ली. भारतीय मूल (Indian-origin) की अंतरिक्ष यात्री (Astronaut) सुनीता विलियम्स (Sunita Williams ) ने एक और उपलब्धि अपने नाम की है. सुनीता विलियम्स अंतरिक्ष में परीक्षण मिशन पर एक नए अंतरिक्ष यान (spacecraft) को उड़ाने वाली पहली महिला(woman) बन गई हैं. 58 वर्षीय सुनीता विलियम्स ने 5 जून को फ्लोरिडा के केप कैनावेरल से नासा के अंतरिक्ष यात्री बैरी “बुच” विल्मोर के साथ बोइंग के स्टारलाइनर कैप्सूल पर उड़ान भरी.


बोइंग क्रू फ्लाइट टेस्ट (CFT) नामक यह मिशन नासा के कॉमर्शियल क्रू प्रोग्राम के रूप में लॉन्च किया गया है. यह इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन के लिए रेग्युलर क्रू फ्लाइट के मद्देनजर स्टारलाइनर को प्रमाणित करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है. अगर ये मिशन सफल रहा तो यह SpaceX के क्रू ड्रैगन के बाद स्टारलाइनर को अंतरिक्ष यात्रियों को कक्षा में लैब से लाने और ले जाने वाला दूसरा निजी अंतरिक्ष यान बना देगा.

सुनीता विलियम्स के लिए यह उड़ान उनके करियर में एक और मील का पत्थर है. इससे पहले सुनीता विलियम्स ने 2006-2007 और 2012 में इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन पर अपने मिशन के दौरान एक महिला द्वारा सबसे अधिक स्पेसवॉक (7) और स्पेसवॉक टाइम (50 घंटे, 40 मिनट) का रिकॉर्ड बनाया था.

स्टारलाइनर कैप्सूल उड़ान भरने के लगभग 26 घंटे बाद इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन के साथ डॉक करने का प्रयास करेगा, जिसमें सुनीता विलियम्स, विल्मोर और ऑर्बिटिंग आउटपोस्ट के लिए 500 पाउंड से अधिक कार्गो होंगे.

दोनों अंतरिक्ष यात्री स्पेस स्टेशन पर लगभग एक सप्ताह तक रहेंगे. इस दौरान वह स्पेस स्टेशन पर जरूरी परीक्षण करेंगे. सुनीता विलियम्स और विल्मोर इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन पर अपने अभियान जारी रखेंगे, स्टारलाइनर पर उनका मिशन कॉमर्शियल पार्टनरशिप के माध्यम से अंतरिक्ष तक मानवता की पहुंच का विस्तार करने में एक महत्वपूर्ण कदम है.

बता दें कि साल 2012 में सुनीता विलियम्स इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन की यात्रा के दौरान अंतरिक्ष में ट्रायथलॉन पूरा करने वाली पहली महिला बनीं थीं. इस दौरान उन्होंने भारोत्तोलन मशीन का उपयोग करके तैराकी का अनुकरण किया और हार्नेस से बंधे हुए ट्रेडमिल पर दौड़ीं थीं.

Share:

Next Post

मंत्रियों एवं विधायकों के लिए तीन हजार करोड़ की लागत से बनेंगे आवास एवं अपार्टमेंट्स : विजयवर्गीय

Fri Jun 7 , 2024
भोपाल. राजधानी भोपाल (Bhopal) में मंत्रियों (ministers) और विधायकों (MLA) के लिए आवास एवं अपार्टमेंट्स (Houses and apartments) बनाएं जाएंगे। तीन हजार करोड़ (three thousand crores) रुपये की लागत से ये काम होगा। इस मल्टी प्रोजेक्ट के प्रस्ताव को अभी कैबिनेट (Cabinet) के सामने रखा जाएगा। गुरुवार को नगरीय विकास एवं आवास मंत्री कैलाश विजयवर्गीय […]