बड़ी खबर

भारत का ओलंपिक ड्रीम और नरेंद्र मोदी स्टेडियम, कई मामलों में है MCG से बेहतर

अहमदाबाद: ‘सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव, नरेंद्र मोदी स्टेडियम’- क्रिकेट स्टेडियम की मुख्य इमारत पर लगे बोर्ड पर यही लिखा है. अंदर, भारत के लौह पुरुष की एक मूर्ति हमारा स्वागत करती है. यह कांग्रेस की आलोचना का अच्छे तरीके से जवाब देता है, जिसने सत्ता में आने पर स्टेडियम का नाम बदलकर सरदार वल्लभाई पटेल के नाम पर रखने का वादा किया है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मधुसूदन मिस्त्री ने यहां तक कह दिया था कि पार्टी प्रधानमंत्री को उनकी औकात दिखाएगी. प्रधानमंत्री मोदी ने तब यह कहते हुए पलटवार किया कि उनकी कोई औकात नहीं है और वह एक साधारण व्यक्ति हैं, जबकि कांग्रेस में शीर्ष पर रहने वाले ‘शाही परिवार’ से संबंधित हैं.

हालांकि, दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में राजनीति के लिए कोई जगह नहीं है. बल्कि 2036 के ओलंपिक के सपने खेल रहे हैं. शनिवार को इस विशाल स्पोर्ट्स एन्क्लेव का दौरा करने का मौका मिला. कुछ नवोदित क्रिकेटर बाहर नेट्स पर कड़ी मेहनत कर रहे थे, जबकि मैदान में एक घरेलू मैच चल रहा था. सचिन तेंदुलकर और महेंद्र सिंह धोनी जैसे क्रिकेट के दिग्गजों के साथ पीएम मोदी की तस्वीरें स्टेडियम की मुख्य लॉबी की दीवारों पर सजी हैं. अधिकारियों ने सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव के अंदर 63 एकड़ में बने नरेंद्र मोदी स्टेडियम की 1.15 लाख दर्शकों की क्षमता के बारे में प्रशंसा की, जो कि अन्य कर्मचारियों और पदाधिकारियों की उपस्थिति को जोड़कर 1.32 लाख हो जाती है.

हाल ही में टी-20 विश्व कप में भारत-पाकिस्तान मैच के दौरान मेलबर्न क्रिकेट स्टेडियम (MCG) 98,000 दर्शकों के साथ भर गया था. इसकी तुलना में, नरेंद्र मोदी स्टेडियम में 32 ओलंपिक आकार के फुटबॉल मैदान हो सकते हैं. इसका विस्तार प्रेसिडेंशियल बॉक्स से सबसे अच्छा देखा जा सकता है; वास्तव में यहां 76 कॉरपोरेट बॉक्स हैं, जो दुनिया के किसी भी स्टेडियम की तुलना में सबसे अधिक है. लेकिन अधिकारियों ने कहा कि इस मैदान में उच्चतम ‘सी वैल्यू’ है, जिसका अर्थ है कि आप मैदान में प्रत्येक सीट से बाउंड्री देख सकते हैं और यह एमसीजी से भी बेहतर है. अधिकारियों ने बताया कि स्टेडियम की पूरी तरह से पिलर रहित संरचना भी दर्शकों के अनुभव को बेजोड़ बनाती है.

एमसीजी और नरेंद्र मोदी स्टेडियम में समानताएं
नरेंद्र मोदी स्टेडियम और एमसीजी में बहुत समानताएं हैं, क्योंकि दोनों ही क्रिकेट स्टेडियम के डिजाइनर एक ही हैं- प्रसिद्ध ऑस्ट्रेलियाई वास्तुकार फर्म पोपुलस. लार्सन एंड टुब्रो ने स्टेडियम का निर्माण किया, और अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने एमसीजी से कुछ अलग किया है. जैसे, अधिकारियों ने डे-नाइट क्रिकेट के दौरान पारंपरिक हाई मास्ट फ्लड लाइट्स को बदलने का विकल्प चुना और भारत में पहली बार ‘छाया रहित प्रकाश’ प्रदान करने वाली स्टेडियम की छत की परिधि के साथ एलईडी लाइटें लगाईं. एक अधिकारी ने कहा, ‘यह खिलाड़ियों के लिए अधिक आरामदायक है’. उन्होंने यह भी बताया कि कैसे ऊर्जा की बचत भी हुई, क्योंकि एलईडी लाइट्स प्रति घंटे 700 यूनिट की खपत करती हैं, जबकि पारंपरिक हाई मास्ट फ्लड लाइट्स प्रति घंटे लगभग 1,350 यूनिट की खपत करती हैं, इसलिए इस कदम से बिजली की खपत में लगभग 50 प्रतिशत की बचत हुई है.

यह स्टेडियम बारिश रुकने पर 30 मिनट के भीतर जल निकासी का दावा करता है, जो एमसीजी से भी बेहतर है. मैदान अपने आप में 11 पिचों के साथ एक अद्भुत दृश्य है- लाल मिट्टी की 6 और काली मिट्टी की 5 पिचें हैं. दो व्यायामशालाओं से सुसज्जित 4 अत्याधुनिक ड्रेसिंग रूम हैं. 9 मीटर की ऊंचाई पर 360 डिग्री का पोडियम कॉन्कोर्स भीड़ की सुगम आवाजाही की अनुमति देता है, जबकि हाई-टेक मीडिया बॉक्स सबसे तेज कनेक्टिविटी का दावा करता है. सिर्फ दो साल की रिकॉर्ड अवधि में निर्मित यह स्टेडियम, जल्द ही आगंतुकों के लिए मेगा मेट्रो ट्रांसपोर्ट मोड से जुड़ जाएगा.

ओलंपिक के सपने
सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव के अन्य हिस्सों में भी जोर-शोर से काम चल रहा है, जहां विभिन्न खेलों के लिए और स्टेडियम बन रहे हैं. वास्तव में, भाजपा ने अहमदाबाद में 2036 के ओलंपिक के लिए प्रयास करने का वादा किया है. इस स्पोर्ट्स सेंटर की सफलता पर काफी हद तक उम्मीदें टिकी हैं. भाजपा ने शनिवार को आगामी विधानसभा चुनाव के लिए जारी अपने चुनावी घोषणापत्र में वादा किया, ‘हम गुजरात ओलंपिक मिशन लॉन्च करेंगे और 2036 में ओलंपिक खेलों की मेजबानी के उद्देश्य से राज्य में विश्व स्तरीय खेल बुनियादी ढांचा तैयार करेंगे.’ अधिकारियों ने फुटबॉल, हॉकी, बास्केटबॉल, कबड्डी, मुक्केबाजी, लॉन टेनिस और अन्य कई खेलों के लिए एक परिसर के निर्माण की बात कही, जो सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव का हिस्सा होगा. स्टेडियम में पहले से ही ओलंपिक आकार का स्विमिंग पूल है. राजनीति से इतर, बीजेपी मोटेरा में कुछ बड़ा करने की सोच रही है.

Share:

Next Post

BJP का AAP पर बड़ा हमला, पात्रा बोले- झूठ बोल रहे केजरीवाल, सच जरूर आएगा सामने

Sun Nov 27 , 2022
नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि हर दिन सत्येंद्र जैन को लेकर नए-नए वीडियो सामने आएंगे. पात्रा ने कहा एक भ्रष्टाचारी सत्येंद्र जैन के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सेवा का जो प्रबंध तिहाड़ जेल में कराया है, उसकी मिसाल कहीं नहीं है. पात्रा ने […]