भोपाल न्यूज़ (Bhopal News)

भोपाल सहित प्रदेश के छह मेडिकल कॉलेजों में खुलेंगे IVF Center

  • भोपाल सहित इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, रीवा और सागर में खुलेंगे
  • एग से स्पर्म का फर्टिलाइजेशन होगा और गर्भधारण कराया जाएगा

भोपाल। गांधी मेडिकल कॉलेज सहित प्रदेश के छह मेडिकल कालेजों में आईवीएफ (इन विट्रो फर्टिलाइजेशन) सेंटर खोलने की तैयारी है। यह आगामी तीन माह में खोले जाने हैं, जिसको लेकर इन मेडिकल कालेजों से प्रस्ताव मांगा गया है। संसाधनों की उपलब्धता होने पर अस्पतालों में आईवीएफ सेंटर खोला जाएगा। आईवीएफ को बांझपन के उपचार का मुख्य तरीका माना जाता है। जिन महिलाओं को गर्भधारण नहीं होता और वे नि:संतान रह जाती हैं, उनके लिए यह सेंटर वरदान साबित होगा। इस सेंटर में दंपतियों को नि:शुल्क गर्भधारण कराने की प्रक्रिया अपनाई जाएगी।



भोपाल के जीएमसी सहित इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, रीवा और सागर के मेडिकल कालेज से भी प्रस्ताव मांगा गया है। नि:संतान दंपतियों की परेशानी को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मेडिकल कालेजों में आईवीएफ सेंटर खेालने का निर्णय लिया था। ऐसे दंपती जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं और संतान उत्पत्ति के लिए व्यय नहीं कर सकते, उनके लिए अब आइवीएफ सेंटर खोलने की दिशा में कदम बढ़ दिए हैं।

यह काम करता है आईवीएफ सेंटर
ऐसी महिलाएं जिनके गर्भाशय की नसों (ट्यूब) में ब्लाकेज होने से पुरुष के स्पर्म को गर्भाशय में एग से फर्टिलाइजेशन नहीं करा पाती है। उन महिलाओं के एग और पुरुष के स्पर्म को एक परखनली में फर्टिलाइजेशन कराया जाता है। जब भ्रूण तैयार होता है तो उसे महिला के गर्भाशय में प्रवेश करा दिया जाता है, जिसके बाद महिला गर्भधारण कर शिशु को जन्म देती है। जब तक महिला का प्रसव नहीं होता तब तक आईवीएफ सेंटर निगरानी रखता है। जिन दंपतियों पर प्रजनन दवाओं, सर्जरी और कृत्रिम गर्भाधान जैसी अन्य विधियां काम नहीं करतीं, उनके लिए आईवीएफ बेहतर विकल्प है।

इनका कहना है
प्रदेश के छह पुराने मेडिकल कालेजों में आईवीएफ सेंटर खोले जाना हैं, जिसके लिए प्रस्ताव मांगे थे, वह मिल चुके हैं। अगले तीन माह में आईवीएफ सेंटर इन मेडिकल कालेज में खोल दिए जाएंगे।
निशांत वरवड़े, आयुक्त, उच्च चिकित्सा शिक्षा विभाग, भोपाल

Share:

Next Post

IPL 2022 Mega Auction: नीलामी में कमिंस और वॉर्नर को नुकसान, इन दिग्गज खिलाड़ियों की हुई बल्ले बल्ले

Sat Feb 12 , 2022
नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) के मेगा ऑक्शन की शुरुआत हो गई है। साल 2022 के नए सीजन से पहले ये बड़ा ऑक्शन हो रहा है, जिसमें कुल 600 खिलाड़ियों की बोली लग रही है। आज यानी शनिवार को इस मेगा ऑक्शन का पहला दिन है। कुल 10 टीमें इस मेगा ऑक्शन […]