बड़ी खबर

नीट यूजी सहित अन्य परीक्षाओं में हुई गड़बड़ी को लेकर मध्य प्रदेश कांग्रेस ने किया धरना प्रदर्शन


भोपाल । नीट यूजी सहित अन्य परीक्षाओं में हुई गड़बड़ी को लेकर (Over irregularities in NEET UG and other Examinations) मध्य प्रदेश कांग्रेस (Madhya Pradesh Congress) ने धरना प्रदर्शन किया (Protested) ।


नीट यूजी 2024 परीक्षा, मध्य प्रदेश की नर्सिंग परीक्षा और इंदौर विश्वविद्यालय में हुई गड़बड़ी को लेकर कांग्रेस ने भोपाल के रोशनपुरा चौराहे पर शुक्रवार को धरना दिया । इस धरना प्रदर्शन के जरिए कांग्रेस ने अपनी एकजुटता का प्रदर्शन करने की भी कोशिश की । कांग्रेस ने अपने पूर्व घोषित आंदोलन के मुताबिक राजधानी के रोशनपुरा चौराहे पर परीक्षाओं में हो रही गड़बड़ी खासकर नीट यूजी 2024, देवी अहिल्याबाई विश्वविद्यालय इंदौर में पेपर लीक कांड और नर्सिंग घोटाले के विरोध में धरना प्रदर्शन का आयोजन किया।

पार्टी की प्रदेश इकाई ने जिला स्तर पर भी धरना प्रदर्शन आयोजित किया । इस प्रदर्शन में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव व प्रदेश से प्रभारी सी पी मित्तल सहित तमाम बड़े नेता मौजूद रहे। कांग्रेस नेताओं ने परीक्षा में हो रही गड़बड़ी को लेकर केंद्र और राज्य सरकार पर हमला बोला। पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल का कहना है कि परीक्षाओं में एक के बाद एक गड़बड़ियां सामने आ रही हैं, यह चिंता का विषय है और छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ भी।

राज्य में लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस का यह पहला बड़ा धरना प्रदर्शन है। इसके जरिए कांग्रेस ने अपनी एकजुटता दिखाने की कोशिश की। काफी अरसे बाद ऐसा मौका आया जब पार्टी के कई बड़े नेता एक साथ मंच पर आए। पार्टी की ओर से आगामी समय में होने वाले विधानसभा के उपचुनाव में पूरी ताकत दिखाने का दावा किया जा रहा है और इस एकजुटता को इसी दावे से जोड़कर देखा जा रहा है।

Share:

Next Post

नेटफ्लिक्स पर रिलीज हुई आमिर खान के बेटे की फिल्म ‘महाराज’, हाईकोर्ट ने हटाई रोक

Fri Jun 21 , 2024
नई दिल्ली: गुजरात हाई कोर्ट (Gujarat High Court) से आमिर खान के बेटे जुनैद की फिल्म ‘महाराज’ (film ‘Maharaj’) का रास्ता साफ हो चुका है और मेकर्स ने इस फिल्म को नेटफ्लिक्स पर रिलीज (Release on Netflix) कर दिया है. इस फिल्म पर आरोप था कि इससे हिन्दुओं की धार्मिक भावनाएं आहत हो सकती हैं. […]