इंदौर न्यूज़ (Indore News)

इंदौर में मिनी सिटी फारेस्ट बनेगा

  • मेडिकल कॉलेज की खाली पड़ी जमीन पर
  • – मरीजों का इलाज करने वाले डॉक्टर अब पर्यावरण का इलाज करेंगे
  • – 10 लाख रुपए खर्च कर जापानी पद्धति से 1500 पेड़ तैयार करेंगे

इन्दौर। मरीजों का इलाज करने वाले डाक्टर्स अब पर्यावरण का भी इलाज करेंगे। इसकी शुरुआत महात्मा गांधी स्मृति मेडिकल कॉलेज सालों से खाली पड़ी अपनी जमीन पर मिनी सिटी फॉरेस्ट से शुरू करने जा रहा है। इस मिनी सिटी फॉरेस्ट में छायादार और फलदार पेड़, मियावाकी तकनीक से पौधे लगाकर तैयार किए जाएंगे। बारिश शुरू होते ही मिनी सिटी फारेस्ट पर काम शुरू कर दिया जाएगा

इस योजना पर मेडिकल कॉलेज शुरुआत में ही 10 लाख रुपए खर्च कर रहा है। यह राशि उन सभी डाक्टर्स से इकट्ठी की जा रही है, जो पिछले 75 सालों में इस मेडिकल कॉलेज से पढ़ कर देश-विदेश में मरीजों का इलाज कर रहे हैं। न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. अर्चना वर्मा ने बताया कि मिनी सिटी फॉरेस्ट बनाने का आइडिया तब आया, जब हम सब डाक्टर्स और मेडिकल स्टाफ ने महसूस किया कि इस साल की प्रचण्ड गर्मी के चलते कूलर और एयर कंडीशनर भी दम तोड़ते नजर आ रहे थे। घर या कॉलेज, हॉस्पिटल से बाहर सडक़ों पर रात को दस बजे तक गर्म हवाओं की लू चल रही थी। हम सबने इस विषय पर मीटिंग की व सिर्फ इस मुद्दे पर चर्चा की।


बीमारी का तो कर सकते हैं मगर गर्मी का इलाज कैसे करेंगे
सबने डाक्टर्स ने यही कहा कि हम आने वाली पीढ़ी को क्या देकर जा रहे हैं। जब इस साल यानी 2024 में तापमान इंदौर में 44 डिग्री को पार कर गया है तो आने वाले 5 या दस सालों में 50 डिग्री तक पारा उछलने में ज्यादा देर नहीं लगेगी। ऐसे हालातों में हम सब डाक्टर्स या हॉस्पिटल तब क्या करेंगे। हम बीमारी से पीडि़त मरीजों का इलाज कर सकते हैं, मगर प्रचण्ड गर्मी का इलाज कैसे करेंगे। इसके बाद सबने निर्णय लिया कि हम सालों से खाली पड़ी अपनी जमीन पर बिना किसी सरकारी मदद के मिनी सिटी फारेस्ट तैयार करेंगे। इसके लिए हम सब डॉक्टर ने आपस मे 10 लाख रुपए का फंड जुटाने की मुहिम शुरू की है और हम इसमें कामयाब हो रहे हैं।

काम शुरू कर दिया है, बस बारिश का इंतजार
एमवाय हॉस्पिटल और मेडिकल कॉलेज के बीच किंग एडवर्ड स्कूल के पास खाली पड़ी जमीन पर जापान की मियावाकी तकनीक से 1500 पेड़ों का मिनी सिटी फारेस्ट तैयार करवा रहे हैं। इसका काम शुरू भी कर दिया गया है, बस बारिश का इंतजार है।
-डॉ. संजय दीक्षित -डीन, महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज

Share:

Next Post

मिनटों में गड्ढे करने वाली 50 मशीनें मुंबई से खरीदेंगे

Mon Jun 17 , 2024
प्रयोग के तौर पर तीन मशीनें खरीदी, प्रयोग सफल होने पर और बुलाएंगे इन्दौर। 51 लाख पौधे लगाने के लिए नगर निगम और वन विभाग का अमला पूरी तरह मुस्तैदी से काम कर रहा है, वहीें कल मुख्यमंत्री के सामने मुंबई से बुलाई गई अत्याधुनिक मशीनों का डेमो भी दिया गया। इन मशीनों के माध्यम […]