देश भोपाल मध्‍यप्रदेश

मप्रः समरस पंचायतें एवं समरस वार्ड बनाएं, सब मिलकर करें विकास : शिवराज

– मुख्यमंत्री ने सलकनपुर में 44 करोड़ रुपये के विकास कार्य का भूमि-पूजन किया
– प्रधानमंत्री आवास योजना के 3852 हितग्राहियों को वितरित किये स्वीकृति-पत्र

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि आगामी पंचायत एवं नगरीय निकाय चुनाव (Panchayat and urban body elections) में समरस पंचायतें एवं समरस वार्ड बनाएं। आपसी झगड़े, वैमनस्य भूलकर सद्भाव एवं समरसता (harmony and harmony) के वातावरण में निर्वाचन निर्विरोध हों, ऐसे प्रयास करें। जहाँ निर्विरोध निर्वाचन होंगे, उन पंचायतों एवं वार्डों को आदर्श बनाया जायेगा एवं वहाँ शासन की सभी योजनाओं को आदर्श रूप से लागू किया जायेगा। ऐसी पंचायतों में मैं स्वयं जाऊँगा। सभी मिलकर प्रदेश का ऐसा विकास करें कि लोग देखते रह जायें। ऐसी पंचायतें एवं नगरीय निकाय बनाये जाने के प्रयास भी किये जायें, जहाँ सभी प्रतिनिधि महिलाएँ हों।

मुख्यमंत्री चौहान सोमवार शाम को सलकनपुर में आयोजित भूमिपूजन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सलकनपुर मंदिर का विकास वृहद रूप में किया जायेगा। प्रदेश का विकास तो माँ कर रही है, हम तो सब निमित्त हैं। उन्होंने माँ विजयासन देवी से प्रार्थना की कि वे सभी को निरोग एवं सुखी रखें तथा सबका मंगल एवं कल्याण हो। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में 43 करोड़ 69 लाख रुपये के विकास कार्यों का भूमि-पूजन किया। साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना और आवास प्लस के 3852 नवीन हितग्राहियों को स्वीकृति-पत्र वितरित किये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोई भी गरीब बिना पक्के मकान के नहीं रहेगा। इस क्षेत्र के अभी लगभग 12 हजार हितग्राहियों को आवास स्वीकृत किये जायेंगे। हितग्राही किसी के झांसे में न आयें। उन्होंने कलेक्टर को निर्देश दिये कि आवास गुणवत्तापूर्ण एवं बेहतर बनें। भवन निर्माण सामग्री एक ही स्थान से खरीदी जाये, जिससे लागत में कमी आये।

उन्होंने कहा कि बच्चे पुष्ट हों, शिक्षित हों एवं संस्कारी हों। इसके लिये आँगनबाड़ियों का बेहतर संचालन आवश्यक है। इस कार्य में सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी, परंतु समाज की भी यह जिम्मेवारी है। मैं स्वयं कल भोपाल की सड़कों पर ठेला लेकर निकलूँगा एवं आँगनवाड़ी के बच्चों के लिये खिलौने, कपड़े, टी.व्ही. और अन्य सामग्री जन-सहयोग से एकत्र करूंगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला स्व-सहायता समूहों के रूप में प्रदेश में नई ताकत का उदय हो रहा है। हमारे प्रयास हैं कि महिलाएँ विभिन्न आर्थिक गतिविधियाँ सफलतापूर्वक कर पायें और उन्हें कम से कम 10-10 हजार रुपये की मासिक आमदनी हो। सरकार उनके उत्पादों की मार्केटिंग एवं ब्रांडिंग भी कर रही है। उन्होंने कहा कि बच्चों को अच्छी से अच्छी शिक्षा दी जाये। बेटा-बेटी की पढ़ाई का पूरा इंतजाम सरकार करेगी।

उन्होंने कहा कि किसानों को अपनी कुछ भूमि पर प्राकृतिक खेती करना चाहिये। यह अमृत समान होती है। वे अपने खेत पर इसके लिये गाय रखें एवं जीवामृत का उपयोग खेती में करें। सरकार इस उद्देश्य से एक गाय रखने पर किसान को 900 रुपये प्रतिमाह देगी।

मुख्यमंत्री ने कन्याओं के पूजन के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने हर-हर नर्मदे के जय-घोष के साथ सभी को हाथ उठाकर प्रदेश के विकास का संकल्प दिलवाया। इस मौके पर संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी और सांसद रमाकांत भार्गव उपस्थित थे।

समाज के लिये जिएं, अच्छे कार्य करें, मुख्यमंत्री चौहान ने बेटे कार्तिकेय को दिया संदेश
मुख्यमंत्री चौहान ने धर्मपत्नी साधना सिंह के साथ अपने बेटे कार्तिकेय, जो कि अभी अमेरिका में हैं, उनके जन्म-दिन का केक काटा। उन्होंने अपने बेटे को दिये वर्चुअल संदेश में कहा कि अच्छे कार्य करें एवं अपना जीवन समाज और दूसरों के लिये समर्पित करें।

माँ विजयासन देवी के किये दर्शन
मुख्यमंत्री चौहान ने पत्नी साधना सिंह सहित देवी धाम सलकनपुर में माँ विजयासन देवी की पूजा-अर्चना की। उन्होंने देश एवं प्रदेश की सुख-समृद्धि, शांति एवं विकास की प्रार्थना की।

कोरकू समाज की धर्मशाला का शिलान्यास किया
मुख्यमंत्री ने सलकनपुर में कोरकू समाज की धर्मशाला भवन का भूमि-पूजन किया और धर्मशाला के लिये 5 लाख रुपये का चेक प्रदान किया। उन्होंने कहा कि कोरकू समाज के लोग मेहनती और ईमानदार हैं, उनकी समाज में अलग पहचान है। सरकार कोरकू समाज के विकास एवं कल्याण के लिये हर-संभव कार्य करेगी। समाज के बच्चों की शिक्षा, रोजगार एवं तरक्की के लिये हर अवसर उपलब्ध कराया जायेगा। (एजेंसी, हि.स.)

Share:

Next Post

मप्रः आंधी-तूफान के साथ कई जिलों में हुई बारिश, छह लोगों की गई जान

Tue May 24 , 2022
– सतना में तीन, उमरिया, पन्ना और अशोकनगर में एक-एक की मौत भोपाल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में दो दिन से मौसम का मिजाज बदला हुआ है। लगातार दूसरे दिन सोमवार को भी राज्य के कई हिस्सों में तेज आधी-तूफान (strong half-storm) के साथ बारिश हुई। आंधी-तूफान से जहां कई जिलों में कच्चे मकानों के […]