आचंलिक

पुलिस परिवार केंद्र ने मिलाए 13 बिछुड़े परिवार

  • हुए समझौते, एक दूसरे को पहनाई माला, फिर पहुंचे घर

गुना। गुना पुलिस अधीक्षक श्री पंकज श्रीवास्तव जिले को अपराध मुक्त एवं शांतिप्रिय जिला बनाने के लिए लगातार प्रयासरत हैं । उनके द्वारा अपराध नियंत्रण, कानून व्यवस्था के साथ साथ परिवारो में भी आपसी सामंजस्य बना रहे इस ओर विशेष ध्यान दिया जाकर जिले में टूटे हुए परिवारों में आपसी सुलह कराने हेतु पुलिस परिवार परामर्श केन्द्र को निरंतर आवश्यक दिशा निर्देश दिए जा रहे है । उल्लेखनीय है कि जिले में आपसी पारिवारिक कलह से पीडित फरियादियों द्वारा पुलिस अधीक्षक श्री राजीव कुमार मिश्रा के समक्ष अपना दुखडा सुनाकर उनसे न्?याय की अपील की जाती हैं, इस प्रकार के मामलों के फरियादियों को गुना पुलिस अधीक्षक द्वारा गंभीरता से सुन समझकर उनके टूटे हुए रिस्?तों को फिर से जोडने हेतु पुलिस के परिवार परामर्श केन्द्र को निर्देश दिये जाते हैं । परिवार परामर्श केंद्र की पुलिस टीम द्वारा प्राप्त आवेदनों पर तत्?परता से कार्यवाही करते हुये आवेदक एंव अनावेदकों को केन्द्र पर बुलाकर उन्?हें समझाकर उनके बीच आपस मे सुलह कराई जाती हैं एवं समझौता कराये गये परिवारों मे आगे पुन: कोई विवाद की स्थिति न बने, इसके लिये उन्?हें प्रति माह समीक्षा तारीख दी जाती है इस समीक्षा तारीख को आवेदक, अनावेदक केन्द्र पर उपस्थित होते हैं एवं जिनसे पुलिस टीम द्वारा उनकी वर्तमान में एक दूसरे से कोई शिकायत होने न होने के संबंध मे पूछताछ की जाती है । यदि समझौते के बाद भी किसी परिवार मे पुन: विवाद की स्थिति बनती है तो उनके विरुद्ध अन्?य वैधानिक कार्यवाही की जाती हैं।

जून में गुना पुलिस परिवार परामर्श केन्द्र द्वारा वर्षों से टूटे हुए 13 परिवारों के बीच के मनमुटाव को दूर कराकर उनको फिर से जोडने का प्रयास किया गया है

  1. फरियादिया सोनम उर्फ सोना का अपने पति दिनेश बाल्मीक निवासी नईसरांय जिला अशोकनगर से पारीवारिक विवाद चल रहा था जबकि इनकी शादी को 25 वर्ष हो गए थे दोनों पक्षों को उचित समझाइश देकर उनमें सुलह कराई गई ।
  2. फरियादिया रानी शर्मा निवासी साडा कालोनी का अपने पति ऋषिकांत शर्मा से विवाद चल रहा था जिसके चलते आए दिन दोनों के बीच झगडा होता रहता था । जिनके बीच के विवाद को समझौते में बदला गया ।
  3. आवेदिका सपना पंत का अपने पति धर्मेन्द्र कोरी निवासी आरोन से विवाद चल रहा था जिनकी शादी को अभी एक वर्ष ही हुआ था, जिन्हे उचित समझाइश देकर दोनो पक्षों में सुलह कराई गई ।
  4. आवेदिका राजकुमारी विश्वकर्मा निवासी बरवटपुरा गुना एवं उसके पति मुन्नालाल विश्?वकर्मा में विवाद चल रहा था जिनकी शादी को 12 वर्ष हो गए थे, जिनके विवाद को समझौते में बदलकर दोनों के मध्य समझौता कराया गया ।
  5. फरियादिया ज्योति धौलपुरिया निवासी भुल्लनपुरा का उसके पति नीतिराज नखवाल तथा सास से विवाद चल रहा था जिससे उनके मध्य आपस में लडाई झगडा होता रहता था । जिसके चलते दोनो पक्षों को समझा बुझाकर परिवार में सुलह कराई गई ।
  6. फरियादिया अनीता पटेलिया निवासी मुसरेडी थाना सिरसी का अपने पति जयसिंह पटेलिया से विवाद चल रहा था, जिनको बुलाकर दोनों के मध्य समझौता कराया गया ।
  7. फरियादी मोहन जाधव का अपनी पत्नि मिनल शिंदे से पारिवारिक विवाद चल रहा था तथा जिनकी शादी को 10 वर्ष हो गए थे । दोनो पक्षों को समझाइश देकर दोनों के मध्य समझौता कराया गया ।
  8. फरियादिया रुबिना बानो एवं उसके पति आमिर शाह निवासी बरवटपुरा आरोन के मध्य मनमुटाव होकर लडाई झगडा हो रहा था जिनके विवाद को आपसी सहमति से दूर कराकर जिनके मध्य समझौता कराया गया ।
  9. फरियादिया आयुषी बाई का अपने पति शिवम रजक निवासी ईसागढ जिला अशोकनगर से विवाद चल रहा था, दोनों को उचित समझाइश देकर दोनों के मध्य आपसी सुलह कराई गई ।
  10. फारयादिया ज्योति सैनी का अपने पति नरेन्द्र सैनी निवासी रेलवे कालोनी गुना के मध्य आपस में विवाद चल रहा था जिनकी शादी को अभी एक वर्ष ही हुआ था । दोनो पक्षों को उचित समझाइश दोंनो को देकर फिर से एक कराया गया ।
  11. आवेदक हंसराज रजक का अपनी पत्नि वंदना रजक निवासी कैंट गुना से आपसी मनमुटाव होकर विवाद चल रहा था जिनकी शादी को सात वर्ष हो गए थे जिनके विवाद को समाप्त कराकर आपसी सहमति से समझौता कराया गया ।
  12. आवेदिका पूजा अहिरवार का अपने पति सत्यनारायण अहिरवार निवासी कुशमौदा से लडाई झगडा चल रहा था जिनकी शादी को सात वर्ष हो चुके थे जिनके मध्य के लडाई झगडा को समाप्त करआपसी सुलह कराई गई ।
  13. आवेदक सुरेश सिलावट निवासी बरखेडी रुठियाई का अपने बेटे रवि सिलावट से आपस में विवाद चल रहा था दोनो पक्षों को बुलाकर आपसी सहमति से दोनों के मध्य समझौता कराया गया । गुना पुलिस परिवार परामर्श केन्द्र द्वारा उपरोक्त कराये गये समझौतों के बाद से सभी आवेदक एवं अनावेदक अब अच्छे से रह रहे हैं एवं जिनके बीच अब किसी भी प्रकार का कोई विवाद नही है ।

इस प्रकार के परिवारिक विवादों से पीडित लोगों से गुना पुलिस की अपील है कि वह अपनी समस्या की शिकायत पुलिस से करें, जिससे उनके पारिवारिक विवादों का निराकरण किया जा सके और उनके परिवारों में शांति बनी रहे । परिवारों में चले आ रहे मनमुटाव को दूर कर उनके बीच फिर से समझौता कराने मे गुना पुलिस परिवार परामर्श केन्द्र प्रभारी उप निरीक्षक रितु शर्मा, प्रधान आरक्षक मधु शर्मा एवं महिला आरक्षक देवकी चौहान द्वारा सराहनीय कार्य किया जा रहा है

Share:

Next Post

आज सुबह तिलवारा में मिली बादल की लाश

Mon Jul 25 , 2022
मर्ग कामय कर शव को पीएम के लिए भेजा, मामले की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस जबलपुर। गौर चौकी अंतर्गत ग्राम मंगेली स्थित नर्मदा पुल के पास 23 जुलाई की शाम को अपनी प्रेमिका को गोली माकर हत्या करने के बाद पुल से छलांग लगाकर आत्महत्या करने वाले युवक बादल पटेल का वह आज सुबह […]