बड़ी खबर

पंजाब और हरियाणा पहुंची लखीमपुर हिंसा की आंच, किसान कर रहे प्रदर्शन, प्रशासन से की ये मांग

चंडीगढ़: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri ) में किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के सिलसिले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पंजाब (Punjab) और हरियाणा (Haryana) में आक्रोशित किसानों ने सोमवार को दोनों राज्यों में कई स्थानों पर प्रदर्शन किया.

प्रदर्शनकारियों ने विभिन्न स्थानों पर केंद्र और उत्तर प्रदेश सरकार के पुतले फूंके और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ नारेबाजी की. उपायुक्तों के कार्यालयों के बाहर प्रदर्शन कर किसानों ने मांग की कि हिंसा के सिलसिले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त किया जाए.

प्रदर्शन पंजाब के पटियाला, मोहाली, फिरोजपुर, अमृतसर, रूपनगर, मोगा और मुक्तसर जबकि हरियाणा के अंबाला, कुरुक्षेत्र तथा फतेहाबाद और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में किये गये. प्रदर्शनकारियों ने किसानों पर टिप्पणी के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ कार्रवाई की भी मांग की.


खट्टर ने रविवार को यहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) किसान मोर्चा की एक बैठक के दौरान कथित तौर पर “जैसे को तैसा” संबंधी टिप्पणी की थी और उन्होंने वहां मौजूद लोगों से 500 से 1000 लोगों का समूह बनाने और जेल जाने के लिए भी तैयार रहने को कहा था.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे को लेकर किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान रविवार को लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया इलाके में भड़की हिंसा में आठ लोगों की मौत हो गई थी. हिंसा के सिलसिले में केंद्रीय मंत्री के बेटे और कई अन्य लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

Share:

Next Post

यदि मृत्यु प्रमाण पत्र में कोविड का उल्लेख नहीं है तो 50 हजार रुपये की सहायता राशि से इनकार नहीं किया जा सकता : सुप्रीम कोर्ट

Mon Oct 4 , 2021
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने सोमवार को राज्य सरकारों को निर्देश दिया यदि मृत्यु प्रमाण पत्र में कोविड का उल्लेख नहीं है (If Covid is not mentioned in the death certificate) तो 50 हजार रुपये (Rs 50 thousand) की सहायता राशि (Assistance amount) से इनकार नहीं किया जा सकता (Cannot be denied)। वे […]