बड़ी खबर व्‍यापार

अप्रैल-जून तिमाही में 7.8 फीसदी की दर से बढ़ी देश की अर्थव्यवस्था

-वित्त वर्ष 2023-24 की पहली तिमाही में जीडीपी ग्रोथ 7.8 फीसदी रही

नई दिल्ली (New Delhi)। देश की अर्थव्यस्था (Country economy) ने चालू वित्त वर्ष 2023-24 की पहली तिमाही (first quarter) में शानदार वृद्धि दर्ज (Recorded impressive growth) की है। रेटिंग एजेंसियों (Rating agencies) के अनुमान को पीछे छोड़ते हुए चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर 7.8 फीसदी रही है।

सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय ने गुरुवार को सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के जारी आंकड़ों में बताया कि चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही देश की अर्थव्यस्था 7.8 फीसदी की दर से बढ़ी है। इससे पिछले वित्त वर्ष 2022-23 की चौथी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 6.1 फीसदी रही थी।


राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले चार तिमाहियों में अप्रैल-जून तिमाही में सबसे ज्यादा विकास दर रही है। इससे पहले अप्रैल-जून 2022 में जीडीपी वृद्धि दर सबसे अधिक 13.1 फीसदी रही थी। इसके बाद की तीन तिमाहियों में जीडीपी ग्रोथ रेट इतनी ऊपर नहीं गई, जबकि जनवरी-मार्च 2023 में विकास दर सिर्फ 6.1 फीसदी रही है।

उल्लेखनीय है कि अधिकांश अर्थशास्त्रियों ने वित्त वर्ष 2023-24 की पहली तिमाही में 7.7 फीसदी ग्रोथ रेट रहने का अनुमान लगाया था। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) का अप्रैल-जून तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 7.8 फीसदी रहने का अनुमान था। हालांकि, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) के अर्थशास्त्रियों ने पहली तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर 8.3 फीसदी रहने का अनुमान जताया था।

Share:

Next Post

MP: खेती के लिए पानी और बिजली की कमी न रहे, CM ने की समीक्षा

Fri Sep 1 , 2023
भोपाल (Bhopal)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने अपने निवास कार्यालय में गुरुवार को प्रदेश में हो रही सामान्य से कम वर्षा (below normal rainfall) को देखते हुए आगामी माहों में सिंचाई के लिए पानी और बिजली की उपलब्धता (water and electricity availability) की समीक्षा (Review) की। इस अवसर पर उन्होंने […]