बड़ी खबर

आतंकी संगठनों से संबंध के आरोप में गिरफ्तार दो लोगों के घर से दो हथगोले बरामद


नई दिल्ली । दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) ने भलस्वा डेयरी इलाके में (In Bhalswa Dairy Area) एक घर से दो हथगोले बरामद किए (Two Hand Grenades Recovered from A House), जहां आतंकवादी संगठनों से (With Terrorist Organizations) संबंधों के आरोप में (For Having Links) गिरफ्तार किए गए (Arrested) दो व्यक्ति (Two People) किराए पर रह रहे थे (Were Living On Rent) । एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया, “जांच के दौरान खुलासा करते हुए दोनों आरोपी पुलिस टीम को भलस्वा डेयरी थाना क्षेत्र के श्रद्धा नंद कॉलोनी स्थित अपने किराए के मकान में ले गए। कमरे से दो हथगोले बरामद किए गए हैं।”


अधिकारी ने कहा, “फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) टीम को मानव रक्त के निशान भी मिले हैं।” आगे की जांच जारी है। दोनों को शुक्रवार को 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। गुरुवार को स्पेशल सेल की टीम ने देश विरोधी तत्वों के साथ संलिप्तता के संदेह में दो लोगों को गिरफ्तार किया। आरोपियों की पहचान उत्तराखंड के उधमसिंह नगर निवासी 29 वर्षीय जगजीत सिंह उर्फ जग्गा उर्फ याकूब और जहांगीरपुरी निवासी 56 वर्षीय नौशाद के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि उनके पास से 22 गोलियों के साथ तीन पिस्टल भी बरामद हुए हैं।

पुलिस के मुताबिक, नौशाद पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन हरकत-उल-अंसार से जुड़ा था, जो मुख्य रूप से कश्मीर में सक्रिय है। वह हत्या के दो मामलों में आजीवन कारावास की सजा काट चुका है और विस्फोटक अधिनियम के तहत एक मामले में उसे 10 साल की सजा भी हुई थी। पुलिस ने बताया कि जगजीत सिंह कुख्यात बंबीहा गिरोह का सदस्य है। पुलिस ने बताया कि जगजीत सिंह कुख्यात बंबीहा गिरोह का सदस्य है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “जगजीत को विदेशों में स्थित राष्ट्र-विरोधी तत्वों से निर्देश मिल रहे हैं। वह उत्तराखंड में हत्या के एक मामले में पैरोल जम्पर है।”

Share:

Next Post

जनवरी के आखिर तक पूरे बीजिंग में होगा कोरोना विस्फोट, सामने आया खौफनाक सच

Sat Jan 14 , 2023
नई दिल्ली: चीन में कोरोना ने तबाही मचाई हुई है. इस बीच एक नई स्टडी में खुलासा किया गया है कि जनवरी के आखिर तक बीजिंग के लगभग सभी 2.2 करोड़ निवासी कोरोना से संक्रमित हो जाएंगे. जर्नल नेचर मेडिसिन में प्रकाशित स्टडी के मुताबिक, बीजिंग में लगभग 92 फीसदी लोग जनवरी के अंत तक […]