भोपाल

पसंद का Mobile न मिलने से नाराज युवती तालाब में कूदी

  • पीछा कर रहे भाई ने छलांग लगाकर बचाया

भोपाल। कैमरे वाला मोबाइल (Mobile) नहीं दिलाने से नाराज बीकॉम (Bcom) की छात्रा ने आज सुबह वीआईपी रोड (VIP Road) स्थित तालाब (Lake) में छलांग लगा दी। उसके पीछे से आए भाई ने तालाब (Lake) में कूदकर बहन की जान बचा ली। इस दौरान लोग सिफज़् अपने मोबाइल (Mobile) से वीडियो (Video) बनाते रहे, लेकिन मद्द के लिए कोई आगे नहीं आया है। युवती को इलाज के लिए अस्पताल (Hospital) में भर्ती कराया है, जहां पर उसकी हालत खतरे से बाहर होना बताई जा रही है। तलैया थाना प्रभारी डीपी सिंह (DP Singh) के मुताबिक एयरपोर्ट रोड (Airport Road) में रहने वाली निकिता मीणा (Nikita Meena) बीकॉम प्रथम वर्ष (B.Com 1st year) की छात्रा है। उसके पिता किसान है, जबकि भाई महेंद्र मीणा (Mahendra Meena) प्रायवेट जॉब करता है। आज सुबह वह भाई से कैमरे वाला मोबाइल (Mobile)  दिलाने की जिद कर रही थी, लेकिन उसके भाई ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) हटने के बाद वह उसे मोबाइल (Mobile) दिला देगा। इससे गुस्सा होकर वह अपने घर से निकली और स्कूटी से वीआईपी रोड (VIP Road) पहुंची। जहां उसने स्कूटी सड़क किनारे खड़ी कर तालाब में छलांग लगा दी। इसके बाद पीछे से उसका भाई आ गया और तालाब में कूदकर अपनी बहन को डूबने से बचा लिया। बाद में गोताखोर भी आ गए और छात्रा को पानी से बाहर निकालने के बाद मद्द की। पेट में पानी भरने के कारण वह बेहोश हो गई थी, इसलिए उसे अस्पताल में भर्ती कराया। जिस समय छात्रा तालाब में कूदी थी, उस समय सड़क पर लोग टहल रहे थे। छात्रा को बचाने के लिए बजाए लोग अपने मोबाइल पर वीडियो बनाते रहे, लेकिन उकसी मद्द के लिए कोई आगे नहीं आया। इतना ही नहीं लोगों ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वॉयरल भी कर दिए।

Next Post

डिजीटल ट्रांसफार्मेशन के लिए तैयार हों नए पत्रकार

Sat May 15 , 2021
  – प्रो. संजय द्विवेदी एक समय था जब माना जाता है कि पत्रकार पैदा होते हैं और पत्रकारिता पढ़ा कर सिखाई नहीं जा सकती। अब वक्त बदल गया है। जनसंचार का क्षेत्र आज शिक्षा की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण हो गया है। वर्ष 2020 को लोग चाहे कोरोना महामारी की वजह से याद करेंगे, […]