आचंलिक जिले की खबरें देश मध्‍यप्रदेश

Gwalior में राष्ट्रीय स्तर की आलू टिश्यू कल्चर लैब के लिए 12.76 करोड़ मंजूर

– लैब की बाउण्ड्री वॉल निर्माण के लिए भी मिली लगभग 194 लाख की स्वीकृति

ग्वालियर। ग्वालियर जिले (Gwalior district) में राष्ट्रीय स्तर की आलू टिश्यू कल्चर लैब (National level potato tissue culture lab) का निर्माण होने जा रहा है। एकीकृत बागवानी मिशन अंतर्गत शहर से लगे हाइवे बाइपास पर बेहटा पंजाबीपुरा की लगभग साढ़े 14 हैक्टेयर सरकारी जमीन पर इस लैब की स्थापना होने जा रही है। प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह की पहल पर उद्यानिकी एवं प्रक्षेत्र वानिकी संचालनालय द्वारा इस लैब के निर्माण के लिए प्रथम चरण में 12 करोड़ 76 लाख रुपये से अधिक राशि की सैद्धांतिक मंजूरी जारी कर दी है।

ग्वालियर में आलू टिश्यू कल्चर लैब स्थापित होने पर ग्वालियर एवं चंबल क्षेत्र सहित अन्य समीपवर्ती क्षेत्रों के किसानों के लिए विकास के नए दरवाजे खुलेंगे। इस लैब में अत्याधुनिक तकनीक से टिश्यू कल्चर पद्धति से आलू के बीज तैयार होंगे। साथ ही किसानों को उन्नत खेती के लिए व्यवहारिक एवं तकनीकी मदद मिलेगी। यहाँ उत्पादित बीज देशभर के किसानों को उपलब्ध कराए जा सकेंगे।

उन्होंने बताया कि टिश्यू कल्चर लैब की बाउण्ड्रीवॉल निर्माण के लिए चिन्हित की गई जमीन की बाउण्ड्रीवॉल निर्माण के लिए भी राज्य उद्यानिकी मिशन के तहत लगभग एक करोड़ 94 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृत हो गई है। बाउण्ड्रीवॉल का निर्माण लोक निर्माण विभाग द्वारा कराया जाएगा। (एजेंसी, हि.स.)

Share:

Next Post

MP: एक लाख से अधिक सरकारी स्कूलों में हुई Parent-teacher meeting

Thu Sep 16 , 2021
– प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी सहित वरिष्ठ अधिकारी पहुँचे गाँव-कस्बों के स्कूलों में भोपाल। शासकीय विद्यालयों (government schools) में शिक्षण व्यवस्था (education system) में अभिभावकों की भागीदारी (parental involvement) सुनिश्चित करने के उद्देश्य से प्रदेश की सरकारी स्कूलों में बुधवार से अभिभावक-शिक्षक बैठकों का आयोजन प्रारंभ हुआ। प्रदेश की एक लाख स्कूलों में यह […]