देश

दिल्ली में जल संकट पर आर-पार, AAP के खिलाफ कांग्रेस-बीजेपी का हल्लाबोल

नई दिल्ली: दिल्ली में हर दिन जल संकट गहराता जा रहा है. अलग-अलग इलाकों में लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं. पानी के लिए टैंकरों पर भीड़ उमड़ रही है. लोग पानी के लिए घंटों इंतजार कर रहे हैं. राष्ट्रीय राजधानी में पानी का संकट बहुत ज्यादा बढ़ चुका है. दिल्ली में पानी की कमी के खिलाफ आज कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने ‘मटका फोड़’ प्रदर्शन किया.

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र यादव के नेतृत्व में 200 से ज्यादा ब्लॉक में प्रोटेस्ट किया गया. दिल्ली में कांग्रेस और AAP लोकसभा चुनाव साथ लड़ी थी लेकिन आज कांग्रेस जलसंकट पर आम आदमी पार्टी के खिलाफ हो गई है. उधर, बीजेपी ने भी दिल्ली की जल मंत्री आतिशी के दफ्तर के बाहर ‘मटका फोड़’ प्रदर्शन किया.

दिल्ली जल संकट पर दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र यादव ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही है. मौजूदा जल संकट का कोई समाधान नहीं दिया गया है. अगर हरियाणा या यूपी पानी नहीं दे रहे हैं तो केंद्र सरकार को हस्तक्षेप करना चाहिए. समाधान खोजना चाहिए. जनता पानी की एक-एक बूंद के लिए संघर्ष कर रही है. कांग्रेस पार्टी गूंगी-बहरी सरकार को जगाने के लिए दिल्ली में ‘मटका फोड़’ विरोध प्रदर्शन कर रही है. उचित जांच होनी चाहिए. टैंकर माफिया के खिलाफ एक्शन लेना चाहिए.


कांग्रेस द्वारा आयोजित ‘मटका-फोड़’ विरोध प्रदर्शन पर बीजेपी नेता शहजाद पूनावाला ने कहा कि यह जल संकट कल से शुरू नहीं हुआ है. यह पूरे चुनाव के दौरान चल रहा था क्योंकि गर्मी शुरू हो चुकी है. वे दिल्ली में AAP के साथ गठबंधन में थे और सीटें साझा की थीं, उन्होंने तब यह मुद्दा नहीं उठाया था. दिल्ली आज पानी की कमी का सामना नहीं कर रही है. दिल्ली में पानी की समस्या 10 साल से है. दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने भ्रष्टाचार के अलावा कुछ काम नहीं किया है. दिल्ली सरकार ने पानी के लिए कोई कदम नहीं उठाए.

शहजाद पूनावाला ने आगे कहा कि दिल्ली को मिलने वाला 50 फीसदी पानी बर्बाद हो जाता है. AAP ने पानी टैंकर माफियाओं को संरक्षण दे रखा है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी पानी टैंकर माफियाओं के खिलाफ कोई जांच नहीं की जाती, ये AAP के साथ जुड़ाव के बारे में बहुत कुछ बताता है जल माफिया और कांग्रेस तथा आप के बीच चुनिंदा गठजोड़.

बता दें कि दिल्ली में पानी की समस्या को लेकर जल मंत्री आतिशी ने बैठक बुलाई थी. दिल्ली सचिवालय में आपातकालीन बैठक बुलाई गई. बैठक में दिल्ली में पानी की समस्या को लेकर समीक्षा की गई. इसमें दिल्ली जलबोर्ड के बड़े अधिकारी शामिल थे.

Share:

Next Post

भारत-चीन की टेंशन से गई 1 लाख नौकरी, इकोनॉमी को 2.2 लाख करोड़ का नुकसान हुआ

Sat Jun 15 , 2024
नई दिल्ली: लद्दाख की गलवान घाटी में जब भारत और चीन के जवानों के बीच झड़प हुई और 20 भारतीय जवान शहीद हो गए, तब से ही दोनों देशों के आपसी संबंधों में एक तल्खी बनी हुई है. भारत और चीन के बीच का ये तनाव अब इकोनॉमी पर भारी पड़ रहा है. इसकी वजह […]