देश

आंध्र प्रदेश CM की बहन शर्मिला रेड्डी को मिली सशर्त जमानत, कार समेत उठा ले गई थी पुलिस

तेलंगाना । आंध्र प्रदेश (Andra Pradesh) के सीएम वाईएस जगनमोहन रेड्डी की छोटी बहन व वाईएसआर तेलंगाना पार्टी (YSRTP) की प्रमुख वाईएस शर्मिला (YS Sharmila) को मंगलवार को चले सियासी ड्रामे के बाद देर शाम जमानत (Bail) मिल गई। उन्हें पंजागुट्टा पुलिस ने एसयूवी में सवार शार्मिला को कार समेत हिरासत में ले लिया था। आरोप है कि पुलिस ने जबरन कार का दरवाजा तोड़ा और उन्हें वाहन से बाहर निकाला। थाना ले जाते समय उनके कुछ समर्थक भी साथ थे।

नामपल्ली में 14 अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने वाईएसआरटीपी प्रमुख शर्मिला को निजी मुचलके पर सशर्त जमानत दी। जिस समय पुलिस ने शर्मिला रेड्डी को हिरासत में लिया था वह एक एसयूवी के अंदर बैठी हुई थी। पुलिस उनकी कार को क्रेन से खींचकर थाना ले गई। मंगलवार शाम को उन्हें मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। रेड्डी उस दौरान अपनी कार में सवार होकर मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव के आवास का घेराव करने के लिए प्रगति भवन आ रही थीं। उन्हें सोमाजीगुड़ा से हिरासत में लिया गया और हैदराबाद के एसआर नगर पुलिस स्टेशन ले जाया गया। वह तेलंगाना के सीएम केसीआर के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान कार के अंदर बैठी हुई थीं। शर्मिला के पति अनिल कुमार ने बताया कि पुलिस ने जबरन कार का दरवाजा तोड़ा और उन्हें बाहर निकाला। शर्मिला की मां वाईएस विजयम्मा ने उनकी बेटी से मिलने नहीं दिए जाने पर विरोध प्रदर्शन किया।

सीएम की बहन को क्रेन से कार संग उठा ले गई पुलिस
आंध्र प्रदेश के सीएम वाईएस जगनमोहन रेड्डी की छोटी बहन व वाईएसआर तेलंगाना पार्टी (वाईएसआरटीपी) की प्रमुख वाईएस शर्मिला को हैदराबाद पुलिस ने उनकी कार समेत क्रेन से उठा लिया। वह ड्राइविंग सीट पर ही बैठी रहीं। बाद में, पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। वह वारंगल में पदयात्रा के दौरान हुए हमलों के विरोध में मार्च निकालकर सीएम हाउस का घेराव करने पहुंची थीं।

-वाईएसआरटीपी का गठन शर्मिला ने 8 जुलाई, 2021 को किया था।
-सीएम के चंद्रशेखर राव और उनकी पार्टी टीआरएस के खिलाफ वह मुखर रहती हैं।

Share:

Next Post

महाराष्‍ट्र के बाद अब केरल में पैर पसार रहा खसरा, लगातार बढ़ रहे मामले

Wed Nov 30 , 2022
केरल। देश के कई इलाकों में खसरा (Measles in areas) का खतरा बढ़ता ही जा रहा है. महाराष्ट्र के बाद अब केरल में भी खसरे के मामले में लगातार इजाफा हो रहा है. केरल का मलप्पुरम (Malappuram in Kerala) खसरे से सबसे अधिक प्रभावित जिला है, जहां अब तक 160 केस दर्ज किए गए हैं. […]