बड़ी खबर

आतंकियों का काल बनेंगे सीमा पर एंटी ड्रोन सिस्टम और स्मार्ट फेंसिंग! जम्मू बॉर्डर पर गजब तैयारी

नई दिल्ली: सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने साफ किया है कि अगर पाकिस्तान (Oakistan) जम्मू में हमास (Hamas) की तर्ज पर हमला करने की कोशिश करता है तो उसका मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा. इसके साथ ही बीएसएफ ने दावा किया है कि जम्मू (Jammu) में पाकिस्तान से सटी 194 किलोमीटर की अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर एंटी ड्रोन सिस्टम (anti drone system) और स्मार्ट फेंसिंग पूरी तरह से तैयार है.

जम्मू में बीएसएफ फ्रंटियर के महान‍िरीक्षक आईजी डीके बूरा ने दावा किया कि पाकिस्तान हमेशा से दुनिया में हो रही किसी भी आतंकी गतिविधि को दोहराने की कोशिश करता है. जम्मू में मीडिया से बात करते हुए आईजी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्मार्ट फेंसिंग और एंटी ड्रोन सिस्टम का टारगेट अचीव कर लिया गया है. इन दोनों विषयों पर बहुत सारा काम किया गया है और हम किसी भी खतरे से निपटने के लिए पूर्ण रूप से सक्षम हैं.

‘बीएसएफ सीमा पर शांति बनाए रखने में कामयाब रही’
उन्होंने साल 2023 का जिक्र करते हुए कहा कि जम्मू में 192 किलोमीटर की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बीएसएफ ने कई तरह की चुनौतियों का सामना किया. इस साल पड़ोसी मुल्क की तरफ से ड्रोन की बढ़ती गतिविधियों, सीमा पार से फायरिंग के साथ-साथ स्मगलिंग की घटनाओं का सामना बीएसएफ ने बड़ी शिद्दत से किया. हालांकि, उन्होंने यह भी दावा किया कि बीएसएफ सीमा पर शांति बनाए रखने में कामयाब रही. पाकिस्तान की तरफ से जो भी हरकत हुई उसका करारा जवाब दिया गया.


‘पाकिस्तान को उसी की भाषा में समझाएंगे’
पिछले महीने पाकिस्तान ने 3 बार युद्ध विराम का उल्लंघन किया. हमारी जानकारी है कि बीएसएफ की जवाबी कार्रवाई में उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ा है. हमारा प्रयास शांति बनाए रखने का है लेकिन अगर पाकिस्तान को यह बात समझ नहीं आती है तो हम उन्हें उन्हीं की भाषा में समझाएंगे. पिछले महीने जो सीमा पर युद्ध विराम उल्लंघन किए गए हैं उसमें घुसपैठ का एंगल फिलहाल सामने नहीं आया है.

‘जवाबी कार्रवाई में आधा दर्जन लोग पाकिस्तान में मारे’
इस फायरिंग के लिए उनकी मंशा क्या थी उसकी हमें जानकारी है. बीएसएफ के आईजी ने कहा कि पाकिस्तान ने यह फायरिंग हिंदुस्तान का जवाब टेस्ट करने के लिए भी की थी. जिस प्रकार का हमने जवाब दिया है तो भविष्य में वह ऐसा करने के लिए 100 बार सोचेंगे. हाल के युद्ध विराम उल्लंघन की जवाबी कार्रवाई में करीब आधा दर्जन लोग पाकिस्तान में मारे गए हैं.

‘ड्रोन की गतिविधियों में आई काफी कमी’
ड्रोन के खतरे पर पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि इस साल की शुरुआत में जम्मू में एक बड़ा ग्रुप पकड़ा गया था और तब से ड्रोन की गतिविधियों में काफी कमी आई है क्योंकि सीमा के इस पार ड्रोन के जर‍िये भेजे गए सामान को पकड़ने के लिए कोई बचा नहीं है. उन्होंने सीमा पर रहने वाले लोगों का भी धन्यवाद किया जो इस तरह की गतिविधियों का समर्थन नहीं करते.

‘पाकिस्तान के ड्रोन से भेजे सब हथियार बरामद’
महान‍िरीक्षक बूरा ने दावा किया कि इस गैंग की पूछताछ से यह भी पता लगा है कि पाकिस्तान ने ड्रोन से जो हथियार भेजे थे वह सब भी बरामद किए गए हैं. उन्‍होंने कहा कि हमारा काम सीमा पर मुस्तैदी बरतना है. भारतीय सीमा में किसी भी नापाक इरादे से घुसपैठ करने वाले को भारतीय सीमा में घुसने नहीं दिया जाये.

Share:

Next Post

मध्य प्रदेश में हार के बाद कांग्रेस ने बुलाई बैठक, PCC चीफ विधायकों के साथ इन कारणों पर करेंगे मंथन

Tue Dec 5 , 2023
भोपाल: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2023 में कांग्रेस (Congress) को मिली करारी हार को लेकर आज यानी 5 दिसंबर को राजधानी भोपाल (Bhopal) में मंथन शुरू हो गया है. सुबह 11 बजे से कांग्रेस की यह बैठक शुरू हुई. इस बैठक में पीसीसी चीफ कमलनाथ (Kamal Nath) हार के कारणों को जानेंगे. बैठक के लिए […]