बड़ी खबर

नए Corona से अब जानवर भी संक्रमित, ऊदबिलाव कोरोना पॉजिटिव

नई दिल्ली। कोरोना वायरस अब जानवरों में भी फैल गया है जिसके चलते ऊदबिलाव संक्रमित हो रहे हैं। ऊदबिलाव नेवले की ही एक प्रजाति होती है। यह जमीन और पानी दोनों में रह सकते हैं। अमेरिका के अटलांटा शहर में स्थित जॉर्जिया एक्वेरियम में कुछ ऊदबिलावों को कोरोना संक्रमित पाया गया है।

जॉर्जिया एक्वेरियम ने ट्वीट करके यह जानकारी दी कि उनके यहां कुछ ऊदबिलाव कोरोना संक्रमित है। उनकी नाक बह रही है। वो छींक रहे हैं। थोड़े थके हुए दिख रहे हैं और थोड़ी खांसी भी आ रही है। लेकिन यह सभी लक्षण हल्के स्तर के हैं। जिन ऊदबिलावों को कोरोना संक्रमण हुआ है वो एशियन स्मॉल क्लॉड ऑटर्स यानी छोटे पंजों वाले एशियाई ऊदबिलाव हैं।

जॉर्जिया एक्वेरियम में एनिमल और एवायरमेंटल हेल्थ की वाइस प्रेसीडेंट डॉण् टोन्या क्लॉस ने कहा कि एक्वेरियम के जंतु विशेषज्ञ इन ऊदबिलावों का अलग से इलाज कर रहे हैं। उन्हें अलग बाड़े में रखा गया है। इसके अलावा एनिमल केयर टीम के जानवरों के डॉक्टर भी लगातार इन पर नजर रख रहे हैं।

डॉ. टोन्या ने बताया कि हम इन जीवों को सपोर्टिव केयर पर रख रहे हैं। इनकी निगरानी के लिए सरकार द्वारा तय डॉक्टर भी जांच कर रहे हैं सारे प्रिकॉशन लेने के बावजूद अगर इन ऊदबिलावों को कोरोना का संक्रमण हुआ है तो ये किसी एसिम्पटोमैटिक कर्मचारी के जरिए हुआ होगा। इसलिए जो भी कर्मचारी इन ऊदबिलावों के संपर्क में थे उनका भी टेस्ट कराया गया है।

डॉ. टोन्या ने बताया कि इन ऊदबिलावों का एक्वेरियम में आने वाले मेहमानों से सीधे संपर्क नहीं होता है। जल्द ही इन्हें वापस सेहतमंद करके एक्वेरियम में बाकी ऊदबिलावों के साथ छोड़ दिया जाएगा। अभी तक किसी अन्य जीव में कोरोना संक्रमण के मामलों की पुष्टि नहीं हुई है। न ही किसी अन्य जीव को कोरोना के लक्षण दिखाई दिए हैं।

इससे पहले दिसंबर 2020 में लुईविले चिड़ियाघर में एक स्नो लेपर्ड को कोरोना संक्रमण हुआ था। इसके अलावा उटाह और विस्कॉन्सिन में हजारों मिन्स्क ;नेवले जैसे जीव की कोरोना संक्रमण से मौत हुई थी। कुछ कुत्ते और बिल्लियों में भी कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए थे।

इन जीवों के अलावा किसी अन्य जीव में कोरोना संक्रमण की खबरें नहीं आई है। अमेरिका में किसी भी जीव को कोरोना वैक्सीन के लिए उपयुक्त नहीं पाया गया है। इसके बावजूद अमेरिका के सभी चिड़ियाघरों, एक्वेरियम और जीवों से संबंधित संस्थानों में कोरोना प्रोटोकॉल का बखूबी ध्यान रखा जा रहा है।

अभी तक यह नहीं पता चल पाया है कि इन जीवों में कोरोनावायरस का कौन सा स्ट्रेन है। लेकिन ये माना जा रहा है कि इनमें किसी नए वैरिएंट की वजह से संक्रमण फैला है। क्योंकि इससे पहले कभी भी ऊदबिलावों में कोरोना के लक्षण नहीं मिले थे। यहां तक कि पिछले साल भी कोरोना महामारी के दौरान ये जीव सुरक्षित थे।

Share:

Next Post

Michael Vaughan का दावा- MS Dhoni के बाद ये खिलाड़ी बन सकता है CSK का कप्तान

Tue Apr 20 , 2021
चेन्नई। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) का कहना है कि स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा में वे सभी गुण मौजूद हैं, जिससे वह आने वाले दिनों में चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी कर सकते हैं। माइकल वॉन के मुताबिक बेहतरीन बैटिंग, बॉलिंग और फील्डिंग में माहिर रवींद्र जडेजा सीएसके में धोनी का उत्तराधिकारी […]