विदेश व्‍यापार

Bitcoin ने रचा इतिहास, पहली बार कीमत 70 हजार डॉलर के पार

नई दिल्ली (New Delhi)। बिटकॉइन (Bitcoin Price) ने आखिरकार इतिहास रच ही दिया है। निवेशकों में इस सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) को लेकर बना पॉजिटिव रुख इसे पिछले कुछ समय से लगातार नई-नई ऊंचाई तक ले जा रहा है. शुक्रवार को बिटकॉइन (Bitcoin) ने पहली बार 70 हजार डॉलर ( touch 70000 dollar mark) का आंकड़ा पार कर लिया. अमेरिकी स्पॉट एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (American spot exchange traded funds- ETF) की लॉन्चिंग के बाद से ही बिटकॉइन की कीमतों ने तेजी पकड़ ली है।


बिटकॉइन की तेजी में सबसे बड़ा हाथ ईटीएफ का
निवेशकों की भारी दिलचस्पी के चलते शुक्रवार को बिटकॉइन 70 हजार डॉलर के रेट को पार कर गया. इसमें सबसे बड़ा हाथ यूएस ईटीएफ का रहा. पिछले कुछ हफ्तों में अरबों डॉलर एक्सचेंज ट्रेडेड फंड में आए हैं. इसके अलावा बिटकॉइन के प्रतिद्वंदी ईथर (Ether) के ईथरम ब्लॉकचेन प्लेटफॉर्म के अपग्रेड और पिछले साल अप्रैल में बिटकॉइन को टुकड़ों में तोड़ने से निवेशकों की दिलचस्पी इसमें तेजी से बढ़ी है. इसके चलते बिटकॉइन की मिंटिंग में सुस्ती आई है।

11 स्पॉट बिटकॉइन ईटीएफ को मिली थी मंजूरी
जनवरी के अंत में अमेरिकी सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (Securities and Exchange Commission) ने 11 स्पॉट बिटकॉइन ईटीएफ को मंजूरी दे दी थी. इसे बिटकॉइन के लिए बहुत बड़ा कदम बताया गया था. इससे पहले कई कॉरपोरेट स्कैंडल और बैंकरप्सी के चलते 18 महीने तक क्रिप्टो मार्केट में सुस्ती छाई रही थी. कई संस्थागत निवेशकों ने भी भारी उतार-चढ़ाव के चलते क्रिप्टो से दूरी बना ली थी. अब उन्हें भी ईटीएफ के आ जाने से नई ऊर्जा मिल गई है. विशेषज्ञों ने अनुमान जताया है कि फिलहाल बिटकॉइन में यह तेजी जारी रहेगी और यह नए-नए रिकॉर्ड बनाता रहेगा।

लगभग 60 फीसदी ऊपर गया ईथर
एलएसईजी डाटा (LSEG Data) के अनुसार, 1 मार्च तक 10 बड़े यूएस स्पॉट बिटकॉइन फंड्स में नेट इनफ्लो 2.2 अरब डॉलर हो चुका था. साथ ही इसमें से लगभग 2 अरब डॉलर ब्लैक रॉक आई शेयर बिटकॉइन ट्रस्ट में गया है. बिटकॉइन की इस तेजी का साफ असर अन्य डिजिटल करेंसी पर भी पड़ा है. बिटकॉइन के बाद दूसरा सबसे बड़ा टोकन ईथर भी इस साल लगभग 60 फीसदी ऊपर जा चुका है।

Share:

Next Post

Cervical Cancer: सर्वाइकल कैंसर से बचना है तो जरूर करा लें ये टेस्ट

Sat Mar 9 , 2024
नई दिल्‍ली (New Delhi)। भारत में तेजी से सर्वाइकल कैंसर (Cervical Cancer ) के मामले हर साल बढ़ रहे हैं. यह कैंसर खासकर महिलाओं को होता है. भारतीय महिलाओं को सर्वाइकल कैंसर (Indian women suffering from cervical cancer) का पता एडवांस स्टेज में पता चलता है. इसके पीछे का कारण यह भी हो सकता है […]