बड़ी खबर

चंद्रशेखर आजाद ने खोले राज, बताया जयंत चौधरी ने दिया था क्या ऑफर? कांग्रेस ने भी की थी पेशकश

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में अब ज्यादा समय नहीं बचा है. सभी दल अपनी-अपनी तैयारियों में जुट गए हैं. वहीं, यूपी में भी सियासी पारा बढ़ गया है. यूपी में पिछले दो चुनाव में शानदार जीत हासिल करने वाली बीजेपी को रोकने के लिए समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने हाथ मिलाया है. वहीं, चंद्रशेखर आजाद की आजाद समाज पार्टी भी मैदान में है.

इंडिया अलायंस की ओर से चंद्रशेखर आजाद नगीना लोकसभा सीट से चुनाव लड़े रहे हैं. उनका का कहना है कि यूपी ने सभी दलों को बड़े-बड़े नेता दिए हैं, लेकिन उन्होंने क्षेत्र की जनता को नकार दिया और यहां कोई विकास नहीं किया. यहां न बिजली और न ही सड़के हैं. यहां बाढ़ की समस्या और लोगों के पास रोजगार भी नहीं है.

एक सीट पर लड़ेंगे चुनाव
उन्होंने यूपी तक से बात करते हुए कहा कि उन्हें कांग्रेस और आरएलडी से ऑफर मिला था. उन्होंने कहा कि 28 जून को जब मेरे ऊपर हमला हुआ तो किसी भी नेता ने इस पर एक शब्द भी नहीं कहा. उसी दिन मेरी पार्टी ने तय किया कि हमें अपनी राजनीतिक आवाज बढ़ानी होगी. हमने तय किया कि हम सिर्फ एक सीट पर चुनाव लड़ेंगे.


इंडिया अलायंस से नहीं बनी बात
आजाद ने बताया कि हमने इंडिया अलायंस से बात की और कहा कि हमें सिर्फ एक सीट पर चुनाव लड़ना है. बाकी सीट पर हम आपकी मदद करेंगे. इसको लेकर मेरी कांग्रेस से बात हुई, शरद पवार और अखिलेश यादव से बात हुई. उन्होंने बाद में मुझसे कहा कि हम अपनी-अपनी पार्टी के सदस्य लड़ाएंगे.

‘मैं सिर्फ सांसद बनना नहीं चाहता’
उन्होंने कहा मैं केवल सांसद या विधायक बनना नहीं चाहता था. मुझे कांग्रेस और आरएलडी ने अपनी-अपनी पार्टी के सिंबल पर चुनाव लड़ने का ऑफर दिया था. हम चाहते थे तो देशभर की कई सीटों पर इलेक्शन लड़ सकते थे. हमारा कई जगह संगठन है, लेकिन हमने ऐसा नहीं किया.

‘हमारी मदद करें लोग’
आजाद समाज पार्टी के नेता ने कहा कि कोई भी शख्स जो जाति-धर्म से ऊपर उठ कर इस क्षेत्र की सेवा करना चाहता है और यहां विकास चाहता हमने उनसे अपील की है कि वह हमारे मदद करें. अगर हमारे पक्ष में माहौल नहीं होता तो यह जो सुरक्षा मुझे मिली है. यह कभी नहीं मिलती.

Share:

Next Post

शिवराज सिंह चौहान, VD शर्मा और भूपेंद्र सिंह के खिलाफ जमानती वारंट जारी, HC ने नहीं दी राहत

Wed Apr 3 , 2024
भोपाल: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Shivraj Singh Chouhan), बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा (VD Sharma) और विधायक भूपेंद्र सिंह (Bhupendra Singh) के खिलाफ मानहानि मामले में जबलपुर की स्पेशल एमपी-एमएलए कोर्ट ने मंगलवार (2 अप्रैल) को जमानती वारंट जारी किया है. कांग्रेस के राजयसभा सदस्य विवेक तन्खा द्वारा लगाए 10 करोड़ […]